दैनिक भास्कर हिंदी: ISSF Shooting World Cup: यशस्विनी ने गोल्ड पर साधा निशाना, ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली 9वीं भारतीय शूटर भी बनी

September 2nd, 2019

हाईलाइट

  • यशस्विनी ने आईएसएसफ शूटिंग वर्ल्ड कप में 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मेडल जीता
  • यशस्विनी ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली 9वीं भारतीय शूटर बनीं

डिजिटल डेस्क। भारत की स्टार शूटर यशस्विनी सिंह देसवाल ने आईएसएसफ शूटिंग वर्ल्ड कप में 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मेडल जीता और ओलंपिक कोटा हासिल किया। यशस्विनी ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली 9वीं भारतीय शूटर बनीं। इससे पहले अंजुम मौद्गिल, अपूर्वी चंदेला, सौरभ चौधरी, अभिषेक वर्मा, दिव्यांश सिंह, राही सरनोबत, संजीव राजपूत और मनु भाकर ओलंपिक कोटा हासिल कर चुकें हैं। उन्होंने फाइनल में 2004 की ओलिंपिक चैंपियन यूक्रेन की ओलेना कोस्तेविच को मात देकर गोल्ड  जीता है। यशस्विनी से पहले अभिषेक वर्मा और महिला शूटर इलावेनिल वालारिवान ने इस वर्ल्ड कप में गोल्ड मेडल जीता है। भारत इस वर्ल्ड कप में तीन गोल्ड, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज के साथ मेडल टैली में टॉप पर है। 

पूर्व जूनियर वर्ल्ड चैंपियन 22 साल की यशस्विनी ने आठ महिलाओं के 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट के फाइनल में 236.7 का स्कोर किया। वर्ल्ड नंबर-1 कोस्तेविच 234.8 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं और सिल्वर मेडल जीता। सर्बिया की जैसमिना मिलावोनोविच को 215.7 अंक के साथ तीसरे स्थान पर रहकर ब्रॉन्ज मेडल से ही संतोष करना पड़ा। यशस्विनी फाइनल क्वालिफाइंग राउंड में भी 582 अंकों के साथ टॉप पर रहीं थीं। 

यशस्विनी शूटिंग वर्ल्ड कप में गोल्ड जीतने वाली चौथी भारतीय महिला भी बन गई हैं। उनसे पहले इलावेनिल (इसी वर्ल्ड कप में), अपूर्वी चंदेला और अंजलि भागवत ने यह उपलब्धि हासिल की थी। अपूर्वी ने इसी साल नई दिल्ली और म्यूनिख (जर्मनी) में गोल्ड मेडल जीता था। अंजलि 2003 में मिलान (इटली ) और अटलांटा (अमेरिका) में  गोल्ड मेडल जीता था।