comScore

FIFA WC : उरुग्वे को 2-0 से हराकर सेमीफाइनल में पहुंचा फ्रांस

July 07th, 2018 12:15 IST

डिजिटल डेस्क, मॉस्को। निजनी नोवगोरोद स्टेडियम में खेले गए क्वार्टर फाइनल के पहले मुकाबले में फ्रांस ने उरुग्वे को 2-0 से हरा दिया है। फ्रांस की इस जीत के हिरो वरान और ग्रीजमान रहे। वरान ने 40वें और ग्रीजमान ने 61वें मिनट में गोल किये। इस जीत के साथ ही फ्रांस की टीम सेमीफाइनल में पहुंच गई है, जहां उसका मुकाबला ब्राजील और बेल्जीयम मैच के विजेता से होगा। वहीं उरुग्वे का सफर अब वर्ल्डकप में खत्म हो गया है।

पिछले मैच के हीरो रहे कवानी के बिना खेल रही उरुग्वे ने शुरुआती मिनटों में अटैकिंग खेल दिखाया। उरुग्वे के लुकस और स्टार खिलाड़ी सुआरेज ने काउंटर अटैक करते हुए फ्रांस के डिफेंडरों के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी। मैच के 33वें मिनट में फ्रांस के हरनान्डेज को फाउल करने की वजह से यलो कार्ड दिखाया गया। मैच के 40वें मिनट में फ्रांस को मिले एक फ्री-किक पर ग्रीजमान के शानदार क्रॉस पर वरान ने हेडर से गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। हॉफ टाइम तक स्कोर 1-0 रहा। हॉफ टाइम से कुछ मिनट पहले उरुग्वे को गोल करने का सबसे बेहतरीन मौका मिला जब मार्टिन ने एक फ्री-किक पर शॉट लिया, लेकिन फ्रांस गोलकीपर लोरिस ने अपनी दाईं ओर डाइव लगाते हुए शानदार सेव किया। पहले हॉफ में फ्रांस ने 6 शॉट अटेम्प्ट किए, वहीं उरुग्वे ने 7 गोल अटेम्प्ट किए।

दूसरे हॉफ की शुरुआत से फ्रांस एक बार फिर अटैकिंग मोड में दिखाई दिया और टीम के स्ट्राइकरों ने उरुग्वे के मजबूत डिफेंस का जमकर टेस्ट लिया। मैच के 60वें मिनट में उरुग्वे ने दो सब्स्टिट्यूशन कर रोड्रिगेज और गोमेज को मैदान पर भेजा। उरुग्वे का यह निर्णय उस वक्त गलत साबित हुआ जब अगले ही मिनट में फ्रांस ने दूसरा गोल दाग दिया। फ्रांस की तरफ से यह गोल ग्रीजमान ने मैच के 61वें मिनट में दागा। इस गोल से फ्रांस ने 2-0 की महत्वपूर्ण बढ़त ले ली। 102वां मैच खेल रहे मुसलेरा ने इस गोल से पहले टूर्नामेंट में बस एक ही गोल कन्सीड किया था।

2-0 से पिछड़ने के बाद मैदान पर ​​​उरुग्वे के खिलाड़ी हताश नजर आए और यह हताशा उनके खेल पर भारी पड़ी। अंतिम 30 मिनटों में उरुग्वे के प्लेयर कोई भी अच्छा मौका नहीं बना पाए। इस तरह फ्रांस ने यह मैच आसानी से जीत लिया। मैच में दोनों ही टीमों ने 11-11 अटेम्प्ट किए। फ्रांस ने 15 फाउल किए वहीं उरुग्वे ने 16 फाउल किए। मैच में फ्रांस के पास 57% बॉल पज़ेशन रहा, वहीं उरुग्वे  के पास 43% बॉल पज़ेशन रहा। मैच में कुल 4 यलो कार्ड दिए गए।

सेमीफाइनल में पहुंचने में नाकाम रही उरुग्वे की टीम का इस वर्ल्डकप में प्रदर्शन शानदार रहा। वह ग्रुप स्टेज में जहां एक भी मैच नहीं हारी, वहीं राउंड ऑफ-16 में उसने दमदार खेल का प्रदर्शन करते हुए यूरोपियन चैंपियन पुर्तगाल को 2-1 से हराया। 1966 के बाद यह दूसरी बार है जब उरुग्वे की टीम क्वार्टरफाइनल में पहुंचकर हार गई।  

कमेंट करें
XafvA