दैनिक भास्कर हिंदी: वर्ल्ड बॉक्सिंग चैम्पिनयशिप: मैरीकॉम ने रिकॉर्ड छठी बार जीता खिताब, सोनिया को सिल्वर

November 25th, 2018

हाईलाइट

  • मैरीकॉम ने 10वें AIBA वर्ल्ड महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप में इतिहास रच दिया है।
  • मैरीकॉम ने रिकॉर्ड छठी बार यह वर्ल्डकप खिताब अपने नाम किया है।
  • मैरीकॉम महिला वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप इतिहास की सबसे सफल महिला बॉक्सर बन गई हैं।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारत की दिग्गज महिला बॉक्सर एमसी मैरीकॉम ने 10वें AIBA वर्ल्ड महिला बॉक्सिंग चैंपियनशिप में इतिहास रच दिया है। मैरीकॉम ने रिकॉर्ड छठी बार यह वर्ल्डकप खिताब अपने नाम किया है। दिल्ली में खेले गए फाइनल में मैरीकॉम ने 48kg कैटेगरी में अपनी यूक्रेन की प्रतिद्वंदी हन्ना ओकोता को 5-0 से हरा दिया। इसी के साथ मैरीकॉम महिला वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप इतिहास की सबसे सफल महिला बॉक्सर बन गई हैं। वहीं 57kg वर्ग में सोनिया को सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा। सोनिया को फाइनल में जर्मनी की ओर्नेला गैब्रियल ने 4-1 से हरा दिया।

मैरीकॉम खिताब जीतने के बाद अपने आंसुओं को नहीं रोक सकीं। उन्होंने कहा, 'इस जीत का श्रेय मैं अपने फैंस को देना चाहती हूं, जिन्होंने पूरे टूर्नामेंट के दौरान मुझे सपोर्ट किया है। वह मुझे कई सालों से सपोर्ट करते आ रहे हैं।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी मैरीकॉम की जीत पर उन्हें बधाई दी है। पहले राउंड में मैरीकॉम ने शानदार खेल दिखाया। उन्होंने अपने एक्सपीरियंस का इस्तेमाल करते हुए उन्होंने यूक्रेन की अपनी प्रतिद्वंदी पर बढ़त बना ली। दूसरे राउंड में भी मैरीकॉम ने बढ़त बनाए रखा।  

 

 

तीसरे राउंड में भी इस दिग्गज बॉक्सर ने ओखोटा पर बढ़त बनाए रखी और 5-0 से बाउट जीतकर छठी बार विश्व चैंपियनशिप खिताब अपने नाम कर लिया। मैरीकॉम इससे पहले 2002, 2005, 2006, 2008 और 2010 में भी वर्ल्ड चैंपियनशिप में जीत हासिल की थी। वहीं 2001 में उन्होंने सिल्वर पर कब्जा जमाया था। 

बता दें कि मैरीकॉम के अलावा भारत की सोनिया भी फाइनल में पहुंच चुकी हैं। मैरिकॉ़म के गोल्ड के अलावा भारत की सिमरनजीत कौर और लोवलिना बोर्गोहेन ने भी ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया है।