comScore

ओलंपिक स्थगित होने से मुझे तैयारी के लिए और समय मिला : तेजस्विन शंकर

June 25th, 2020 09:39 IST
ओलंपिक स्थगित होने से मुझे तैयारी के लिए और समय मिला : तेजस्विन शंकर

हाईलाइट

  • ओलम्पिक स्थगित होने से मुझे तैयारी के लिए और समय मिला : तेजस्विन शंकर

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। जब आप घर से 13,000 किलोमीटर दूर रहते हैं और अचानक से कोई अदृश्य सी चीज पूरे विश्व को रोक देती है तो आपके लिए कभी चीजें सही नहीं रहतीं। कोरोनावायरस के समय कुछ यही हुआ भारत के ऊंची कूद खिलाड़ी तेजस्विन शंकर के साथ जो अमेरिका में कनसास स्टेट यूनिवर्सिटी में एथलेटिक्स स्कॉलरशिप पर एकाउंटिंग व फाइनेंस की पढ़ाई कर रहे हैं।

हालांकि, शंकर का कहना है कि अमेरिका में लॉकडाउन नियम बाकी के देशों की अपेक्षा ज्यादा सख्त नहीं हैं और इसलिए वह अपनी सामान्य ट्रेनिंग कर पा रहे हैं। शंकर ने आईएएनएस से कहा, एक चीज यहां जो मुझे लगतार प्रेरित करती रहती है, वो यह है कि मैं यहां ट्रेनिंग कर सकता हूं। अगर मैं ट्रेनिंग नहीं कर पाता तो कुछ भी मायने नहीं रखता।

उन्होंने कहा, लॉकडाउन यहां भारत की तरह सख्त नहीं है, इसलिए मैं ट्रेनिंग कर पा रहा हूं। हालांकि मेरे पास ट्रेनिंग फील्ड में जाने की इजाजत नहीं है, इसलिए मैं ऊंची कूद का अभ्यास नहीं कर पा रहा लेकिन मैं और बाकी की ट्रेनिंग जरूर कर पा रहा हूं। शंकर ने कहा, मेरे सेमेस्टर मई में हो गए थे और इसके बाद मुझे कुछ दिन का आराम मिला और अब मैं अपनी समर क्लासेस कर रहा हूं।

शंकर बेशक ट्रेनिंग कर पा रहे हों लेकिन अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट्स को लेकर जो अनिश्चित्ता है, वो एक परेशानी है। शंकर को अभी ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करना है। 21 साल के खिलाड़ी का कहना है कि किसी खास टूर्नामेंट की तैयारी ना करते हुए अपने आप को प्रेरित रखना मुश्किल काम है। शंकर ने कहा, आमतौर पर आपकी ट्रेनिंग में ऐसा प्लान होता है जिसमें आप आम ट्रेनिंग करें और अपनी शक्ति को बढ़ाएं और फिर आप विशेष तैयारी करें जिसमें आप घेरे में दौड़ना, कर्व रन्स और ऊंची कूद के लिए बाकी चीजें करते हैं।

उन्होंने कहा, जब आप टूर्नामेंट खेलने के दौर में होते है, आप कूदने का अभ्यास करते हैं। हालांकि इस समय ऐसा कोई दौर नहीं है और इसलिए आप नहीं जानते कि टूर्नामेंट कब शुरू होने हैं। इसलिए कई बार ट्रेनिंग करने के लिए मेरे लिए प्ररेणा हासिल करना कई बार मुश्किल होता है, लेकिन अगर मैंने ट्रेनिंग बंद कर दी तो मेरे लिए वापसी करना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा, हम ओलंपिक को लेकर भी आश्वस्त नहीं हैं, हालांकि यह बात पक्की है कि यह खेल जुलाई 2021 में होंगे, लेकिन मेरी नजरें जो आने वाला है उस पर हैं। ओलंपिक खेल इसी साल 24 जुलाई से नौ अगस्त के बीच होने थे लेकिन कोविड-19 के कारण उन्हें एक साल के लिए टाल दिया गया है। अब यह खेल 23 जुलाई से आठ अगस्त 2021 में होंगे।

शंकर ने कहा कि ओलंपिक के स्थगित होने से उन्हें ज्यादा फर्क नहीं पड़ा। उन्होंने कहा कि एक साल के भीतर वह और अच्छे से तैयार हो जाएंगे। उन्होंने कहा, हां, स्थगन से मुझे फर्क नहीं पड़ा क्योंकि मैंने ओलंपिक खेलों के लिए क्वालीफाई नहीं किया है। अगले साल मैं एक और साल और बड़ा हो जाऊंगा और ज्यादा परिपक्व भी। मेरे पास ज्यादा समय है। उन्होंने कहा, मैं ज्यादा तैयार रहूंगा और मुझे लगता है कि इस साल में जितना तैयार था उससे बेहतर रहूंगा।

कमेंट करें
r41jg