बहरीन 2022 पैरा-बैडमिंटन: भगत और ढिल्लों ने 2-2 स्वर्ण पदक जीते

May 23rd, 2022

हाईलाइट

  • बहरीन 2022 पैरा-बैडमिंटन : भगत और ढिल्लों ने 2-2 स्वर्ण पदक जीते

डिजिटल डेस्क, मनामा। शीर्ष पैरा शटलर प्रमोद भगत और तरुण ढिल्लों ने दो-दो स्वर्ण पदक जीते, जिससे भारतीय टीम ने पहली बहरीन पैरा-बैडमिंटन अंतर्राष्ट्रीय चैंपियनशिप 2022 में सात स्वर्ण पदक सहित 23 पदकों के साथ अपने शानदार अभियान को समाप्त किया। युगल शटलर मनीषा रामदास ने भी अपने दो स्वर्ण पदक के साथ सुर्खियों में आए, जबकि नित्या सेरे सुमति सिवन (डब्ल्यूएस एसएच 6) और धिनगरन पांडुरंगन और शिवराजन सोलीमलाई (डबल एसएच 6) ने भारत के लिए अन्य शीर्ष सम्मान हासिल किया।

एक नए साथी के साथ जुड़कर भगत ने इस बार ब्राजील से मिले अपने मिश्रित युगल एसएल3-एसयू5 रजत पदक का रंग स्वर्ण में बदल दिया। उन्होंने और मनीषा रामदास ने थाईलैंड की सिरीपोंग टीमारोम और निपादा सेनसुपा को 21-14, 21-11 से हराकर खिताब अपने नाम किया।

इंग्लैंड के डेनियल बेथेल के वॉकओवर देने के बाद टोक्यो 2020 पैरालंपिक चैंपियन भगत ने पुरुष एकल एसएल3 स्वर्ण पदक जीता। पुरुषों की एसएल4 स्पर्धाओं में ढिल्लों ने पहले नितेश कुमार के साथ मिलकर पुरुष युगल एसएल3 में थाईलैंड के मोंगखोन बन्सन और सिरीपोंग टीमरोम पर 21-13, 21-7 से जीत दर्ज की।

आत्मविश्वास से भरपूर ढिल्लों ने दक्षिण कोरिया के शिन क्यूंग ह्वान को पुरुष एकल एसएल4 स्वर्ण के लिए 21-9, 21-9 से हराने में सिर्फ 20 मिनट का समय लिया। भारतीय टीम मंगलवार से शुरू होने वाले चौथे फज्जा दुबई 2022 पैरा-बैडमिंटन इंटरनेशनल में खेलती नजर आएगी।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.