दैनिक भास्कर हिंदी: टोक्यो ओलंपिक में मेडल जीतने के बाद देश लौटी सिंधु, एयरपोर्ट पर जोरदार स्वागत हुआ, बोलीं-सभी लोगों के समर्थन के लिए आभारी

August 3rd, 2021

हाईलाइट

  • स्टार शटलर पीवी सिंधु टोक्यो से भारत लौटी
  • एयरपोर्ट पर सिंधु का जोरदार स्वागत हुआ
  • सिंधु ने कहा- सभी लोगों के समर्थन और प्रोत्साहन के लिए बहुत आभारी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो में अपना दूसरा ओलंपिक पदक जीतने वाली मौजूदा बैडमिंटन विश्व चैंपियन पीवी सिंधु का मंगलवार को दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया गया। एयरपोर्ट पर सैकड़ों की संख्या में प्रशंसक इकट्ठा हुए और सिंधु का ढोल बाजों के साथ स्वागत किया। ऐसा लग रहा था जैसे जनता उन्हें गॉर्ड ऑफ ऑर्नर दे रही है। एयरपोर्ट स्टाफ, यात्री और वहां मौजूद लोग लगातार ताली बजाते रहे। कई लोगों ने उनका ऑटोग्राफ लेने की कोशिश की। भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) और भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के अधिकारी सिंधु की अगवानी करने के लिए एरपोर्ट पर मौजूद थे। 

 

 

सिंधु ने कहा 'बहुत खुश और उत्साहित हूं। बहुत से लोगों ने मुझे बधाई दी। बीएआई के बहुत से लोग। मैं उनके और बाकी सभी लोगों के समर्थन और प्रोत्साहन के लिए बहुत आभारी हूं। कठिन दिन नहीं, यह एक रोमांचक दिन है। यह एक खुशी का क्षण है। उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री ने मुझे फोन कर बधाई दी और अजय सिंघानिया और बाई यहां हैं। सभी लोगों का धन्यवाद जिन्होंने मेरा समर्थन किया और मुझे प्रेरित किया।

सिंधु ने टोक्यो में चीन की ही बिंग जिओ को सीधे गेम में हराकर कांस्य पदक जीता है। वह इससे पहले अपना सेमीफाइनल मैच ताइवान की दूसरी वरीयता प्राप्त ताई त्ज़ु यिंग से सीधे गेम में हार गई थी। खेलों के दौरान यह एकमात्र मैच था जिसमें वह एक गेम हारी थी। आंध्र प्रदेश सरकार ने सिंधु को 30 लाख रूपये की ईनामी राशि देने की घोषणा की है।

 

 

सिंधु ने 2016 के रियो ओलंपिक में रजत पदक के बाद टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीता। इस तरह सिंधु ओलंपिक में दो पदक जीतने वाली पहली महिला भारतीय एथलीट बनीं। वह पहलवान सुशील कुमार के बाद दो ओलंपिक पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय एथलीट हैं और ओलंपिक में बैक-टू-बैक पदक जीतने वाली चौथी विमेंस सिंगल्स बैडमिंटन प्लेयर हैं।

टोक्यो ओलंपिक में पीवी सिंधु का सफर:
पहले मैच में इजराइल की सेनिया पोलिकरपोवा को 21-7, 21-10 से हराया
दूसरे मैच में हांगकांग की गन यी चियुंग को 21-9, 21-16 से हराया
प्री-क्वार्टर फाइनल में डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को 21-15, 21-13 से हराया
क्वार्टर फाइनल में जापान की अकाने यामागूची को 21-13, 22-20 से हराया
सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की ताइजु यिंग ने सिंधु को 21-18, 21-12 से हराया
ब्रॉन्ज मेडल मैच में चीन की जियाओ बिंग को 21-13, 21-15 से हराया 

खबरें और भी हैं...