comScore

  रेलवे की 1.42 लाख की नई-पुरानी ई-टिकट के साथ 2 दलाल गिरफ्तार 

  रेलवे की 1.42 लाख की नई-पुरानी ई-टिकट के साथ 2 दलाल गिरफ्तार 

डिजिटल डेस्क सतना। रेलवे के ई-टिकट दलालों के विरुद्ध यहां शनिवार को चलाए गए अभियान के दौरान आरपीएफ ने 1 लाख 42 हजार 760 रुपए मूल्य की नई पुरानी 79 ई- टिकट के साथ 2 दलालों को गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले जबलपुर के मंडल सुरक्षा आयुक्त के निर्देश पर दो अलग-अलग टीमों ने एक साथ होटल प्रताप में संचालित टीसीपी साइबर कैफे और कलेक्ट्रेट के पास स्थित एक कंम्प्यूटर शॉप में दबिश दी। आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी और इंस्पेक्टर मानसिंह, एएसआई एमपी मिश्रा और आरक्षक प्रमोद मिश्रा की टीम ने प्रताप होटल में संचालित साइबर कैफे से लालता चौक निवासी अजहर खान पुत्र खान (22) को एक लाइव ई टिकट के अलावा  70 पुरानी ई टिकट के साथ पकड़ा। इन टिकटों की कीमत 1 लाख 37 हजार 965 रुपए बताई गई है। आरोपी इस साइबर कैफे में नौकरी करता है। इन ई-टिकट तैयार करने में 20 पर्सनल आईडी का उपयोग किया गया था। इस काम में प्रयुक्त कंम्प्यूटर सेट भी जब्त कर लिया गया है।  
 मनमानी मुनाफे का खेल  
उधर, कलेक्ट्रेट कार्यालय के सामने संचालित सागर कंम्प्यूटर शॉप में दबिश देने पहुंची आरपीएफ की दूसरी टीम में एसआई शिशिर कुमार ,एसआई जेडी मिश्रा,एसआई सुनील बघेल , आरक्षक इंद्राज यादव और आरक्षक राजू मिश्रा शामिल थे। इस शॉप से आरोपी निशांत पटेल पुत्र चंद्रभान (29) निवासी जवाहर नगर को पकड़ा गया। आरोपी के पास से 4 हजार 895 रुपए मूल्य के 8 ई-टिकट  बरामद किए गए। ये टिकट भी पर्सनल यूजर आईडी से बनाए गए थे। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने आरपीएफ को बताया कि इस एवज में उन्हें प्रति यात्री बतौर कमीशन 50 रुपए से लेकर 200 रुपए तक का फायदा होता था। दोनों आरोपी रेल अधिनियम  की धारा 143 के तहत गिरफ्तार किए गए हैं। इन्हें 27 अक्टूबर को रेलवे की जबलपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा। 

कमेंट करें
WLCYg