दैनिक भास्कर हिंदी: जबलपुर की एक महिला डाक्टर पहुंची थी हाथरस - नक्सली कनेक्सन का लग रहा आरोप

October 10th, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर । यहां मेडिकल कालेज की एक डाक्टर के हाथरस में दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप और मौत के बाद पीडि़त परिवार के घर रिश्तेदार बनकर पहुंचने का मामला सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है । इस संबंध में  सहायक प्रोफेसर डा.राजकुमारी बंसल ने मामले में सफाई पेश करते हुए कहा है कि  मेरा पीडि़त परिवार से कोई रिश्ता नहीं है। मैं केवल आत्मीयता के तौर पर हाथरस पीडि़त परिवार से मिलने गई गई थी। आरोपित है कि डॉ राजकुमारी हाथरस कांड के बाद पीडि़त के घर पहुंची थी, और पीडि़त की भाभी बनकर मीडिया में भड़काऊ बयान भी दिए थे। मामल में नया मोड़ आया है राजकुमारी पर नक्सली होने का आरोप भी लगा था, मामले की जांच कर रही एसआईटी ने इस बात की खुलासा किया था। बताया जा रहा है कि एसआईटी की टीम डॉ राजकुमारी की तलाश में जुटी है।
डॉक्टर राजकुमारी बंसल पर नक्सलियों से संबंध होने और पीडि़त के घर पहुंच कर गांव वालों को भड़काने और झूठी बयानबाजी के आरोप लग रहे हैं। इन तमाम आरोपों पर सफाई देते हुए डॉ. बंसल ने कहा है कि वे इंसानियत के नाते हाथरस पहुंची थी और पीडि़ता के परिवार की मदद करना ही उनका मकसद था। नक्सलियों के संबंधों से लेकर तमाम गंभीर आरोपों के घेरे में आई जबलपुर की डॉ बंसल ने योगी सरकार की जांच पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं।
 

खबरें और भी हैं...