comScore

भाजपा नेता ने थाने में जहर खाकर जान दी - टीआई निलंबित सात के विरूद्ध मामला हुआ दर्ज

भाजपा नेता ने थाने में जहर खाकर जान दी - टीआई निलंबित सात के विरूद्ध मामला हुआ दर्ज

डिजिटल डेस्क पन्ना। जांच के लिये थाने बुलाये गये अमानगंज थाना क्षेत्र के ग्राम कमताना निवासी भाजपा नेता द्वारा थाने के अंदर सल्फास की गोलियां खा लेने और उसकी वजह से उनकी मौत हो जाने की घटना के बाद से अमानगंज कस्बा मुख्यालय में तनावपूर्ण स्थिति बनी रही। हालातों को देखते हुये पुलिस अधीक्षक पन्ना मयंक अवस्थी द्वारा भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। घटित घटना के आज दूसरे दिन अमानगंज कस्बा मुख्यालय में पीडि़त के परिजनो के साथ बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोगो द्वारा विरोध प्रदर्शन करते हुये भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय को आत्महत्या के लिये दुष्प्रेरित करने वाले आरोपियो के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध किये जाने और अमानगंज थाना प्रभारी सुश्री सुनीता जाटव को तत्काल प्रभाव से निलंबित किये जाने और पूरी घटना की न्यायिक जांच किये जाने की मांग की गयी। लोगो की लगातार बढ़ रही नाराजगी को देखते हुये पुलिस अधीक्षक पन्ना मयंक अवस्थी द्वारा अमानगंज थाना प्रभारी सुश्री सुनीता जाटव को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश जारी किये गये साथ ही साथ थाना पुलिस द्वारा मृतक कृष्ण कुमार पाण्डेय के भाई भरत पाण्डेय द्वारा दिये गये आवेदन पत्र के बाद सात आरोपियो के विरूद्ध थाने में मामला पंजीबद्ध किया गया है ।
मामला दर्ज
थाना पुलिस द्वारा आईपीसी की धारा 306 के तहत जिन आरोपियो के विरूद्ध मामला पंजीबद्ध किया गया है उनमें श्रीमती अर्चना प्यासी निवासी मोहल्ला बेनीसागर पन्ना, विजय ओमरे निवासी बेनीसागर मोहल्ला पन्ना, सानू मिर्जा निवासी टिकुरिया मोहल्ला पन्ना, संदीप उर्फ बब्लू चौबे, बब्ली चौबे, श्रीमती शीला चौबे, स्वामी चौबे सभी निवासी ग्राम कमताना शामिल है। एसडीओपी गुनौर अभिमन्यु मिश्रा ने बताया कि मृतक के परिजनो द्वारा घटना की न्यायिक जांच संबंधी की जा रही मांग पर पुलिस अधीक्षक द्वारा सहमति जताई गयी है और इस संबंध में उन्होने सक्षम अधिकारियो को पत्र प्रेषित करने की जानकारी दी गयी है। पुलिस द्वारा प्रदर्शन कारियो एवं परिजनो की मांगे मान लिये जाने की वजह से प्रदर्शन कारियो द्वारा प्रदर्शन रोक दिया गया है। 
 थाना प्रभारी के सामने मृतक के साथ हुआ र्दुव्यवहार
मृतक भाजपा नेता कृष्ण कुमार पाण्डेय के भाई भरत पाण्डेय ने घटना को लेकर पुलिस को जो आवेदन दिया है उसमे कहा गया है कि आरोपी गणो द्वारा आये दिन उनके भाई की झूठी शिकायते पुलिस में की जा रही थी फर्जी शिकायते कर थाने और गांव में बेईज्जत करते रहे थे। जिसको लेकर पुलिस के समक्ष उनके भाई द्वारा कई बार अपना पक्ष रखा गया परंतु अमानगंज थाना प्रभारी आरोपी गणो का पक्ष निरंतर लेती रही और उसके चलते उनका भाई प्रताडि़त हो रहा था। दिनांक 7 नवम्बर को उक्त लोगो द्वारा की गयी झूठी शिकायत के आधार पर 100 डायल पुलिस थाने ले गयी। थाने में मेरी भाभी और उनके बच्चो तथा अन्य घरवालो तथा थाना प्रभारी सुनीता जाटव के सामने आरोपी गणो द्वारा र्दुव्यवहार किया गया। थाना प्रभारी सुनीता जाटव आरोपी गणो की झूठी शिकायत पर केश बनाये जाने की धमकी दे रही थी। आरोपियो तथा थाना प्रभारी के इस रवैये और हुई बेईज्जती से आहत और तंग हो कर उनके भाई द्वारा थाने के अंदर इनका कहना है
स्थितियां पूरी तरह से नियंत्रण में है घटना के संबंध में मृतक के भाई द्वारा दिये गये आवेदन के बाद सभी 7 आरोपियो के विरूद्ध आई पीसी की धारा 306 के तहत प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। थाना प्रभारी निलंबित कर दी गयी मामले की जांच के लिये टीम बनायी गयी है आरोपियो की गिरफ्तारी की जायेगी।
बी.के.एस.परिहार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पन्ना
 

कमेंट करें
rqJm4