मैं बनूंगी महापौर!: मुरैना में तीनों दलों ने इन महिला प्रत्याशियों पर लगाया दांव, जानिए किसकी किससे होगी टक्कर?

June 14th, 2022

हाईलाइट

  • मेयर के लिए महिलाओं में मुकाबला

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली, आनंद जोनवार। मध्यप्रदेश में नगर निकाय चुनावों को लेकर हर पार्टी अपने अपने उम्मीदवारों को लेकर चुनावी मैदान में अपने अपने पैंतरे आजमा रहे हैं। मुरैना नगर  निगम में महापौर उम्मीदवारों के नाम में कांग्रेस ने सबसे पहले अपने प्रत्याशी का नाम तय कर चुनावी तैयारी का बिगुल फूंक दिया, उसके करीब एक सप्ताह बाद बसपा और बीजेपी ने अपने अपने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान कर दिया।

                   

कांग्रेस की ओर से शारदा सोलंकी, बहुजन समाज पार्टी से ममता मौर्य के बाद बीजेपी की मीना जाटव के नाम के ऐलान से मुरैना नगर निगम का चुनाव काफी रोचक हो गया है। 

अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित इस सीट पर त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा, वोटरों का मानना है कि हाथी  ने कांग्रेस और बीजेपी से पहले कुछ सीटों पर पार्षद प्रत्याशियों की घोषणा कर अपनी नई चाल चली है। जिसका लाभ आने वाले समय में बीएसपी को मिल सकता है। बीएसपी ने पार्षद प्रत्याशियों में जातिगत समीकरण साधकर बीजेपी और कांग्रेस के लिए चुनौती खड़ी कर दी है। पार्षद प्रत्याशियों के नाम तय करने में कांग्रेस और बीजेपी बीएसपी से पिछड़े नजर आ रहे हैं।

स्थानीय मतदाताओं का मानना है कि बसपा ने मेयर कैंडिडेट के तौर पर एक पढ़ी लिखी एडवोकेट को प्रत्याशी बनाया है, जिनकी जिले में पहले से ही एक तेज तर्रार महिला के रूप में पहिचान है।  इसके अलावा कांग्रेस बीजेपी के मेयर उम्मीदवारों से अलग हटकर ममता मौर्य अधिक शिक्षित होने के साथ साथ पूर्व में  भी जिला पंचायत उपाध्यक्ष रह चुकी है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक  बीएसपी ने  दस नगर निगम के चुनावों में महापौर उम्मीदवार  उतारने की तैयारी कर ली हैं। अन्य सीटों पर भी विचार किया जा रहा है।