comScore

सूतक में मंत्र जाप करें, ग्रहण के बाद जरूरतमंद लोगों को दान करें - 21 जून को सूर्य ग्रहण, दोपहर तक रहेगा सूतक

सूतक में मंत्र जाप करें, ग्रहण के बाद जरूरतमंद लोगों को दान करें - 21 जून को सूर्य ग्रहण, दोपहर तक रहेगा सूतक

डिजिटल डेस्क  जबलपुर । आषाढ़ मास की अमावस्या 21 जून रविवार को सूर्य ग्रहण रहेगा। सूर्य ग्रहण भारत के साथ ही एशिया, अफ्रीका और यूरोप में दिखाई देगा। ग्रहण सुबह 10.18 बजे शुरू होगा तथा ग्रहण का मोक्ष 2.02 बजे होगा। ग्रहण का सूतक काल 20 जून की रात 10.18 बजे से शुरू हो जाएगा। पं. रोहित दुबे ने बताया कि ग्रहण और सूतक के समय में किसी भी तरह की पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए। इस समय केवल मंत्र जाप करना चाहिए। रवि योग में चूड़ामणि ग्रहण होगा। ग्रहण से तीन ग्रह प्रभावित हो रहे हैं। राहु ग्रहण लगा रहा है, बुध सूर्य के साथ बैठा हुआ है और मंगल सूर्य को देख रहा है। पं. वासुदेव शास्त्री ने कहा कि ग्रहण के बाद मंदिरों में शिवलिंग पर जल चढ़ाकर बिल्व पत्र और धतूरा अर्पित करें। शिवलिंग पर चंदन से तिलक करें। भगवान को मिठाई का भोग लगाएँ, दीपक जलाएँ और आरती करें। पूजा के बाद अन्य भक्तों को भी प्रसाद वितरित करें। जरूरतमंद लोगों को धन और अनाज का दान करें।  पं. राजकुमार शर्मा शास्त्री ने बताया कि ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को घरों के बाहर निकलने से बचना चाहिए। इस दौरान सूर्य से निकलने वाली किरणें गर्भवती महिलाओं के गर्भ में पल रहे शिशुओं के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती हैं। 
जिन लोगों की कुंडलियों में ग्रहण योग है यानी सूर्य के साथ राहु या केतु की युति या चंद्र के साथ राहु या केतु की युति हो, उन्हें ग्रहण के समय मंत्र जाप करना चाहिए।

कमेंट करें
hn6Sz