मेखला रिसॉर्ट मामला, रिमांड पर लिए गए आरोपी से पूछताछ: सनकी हत्यारे ने नहीं उगला सच, किस व्यापारी को बेचा ठगी का माल

November 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क जबलपुर। तिलवारा थाना क्षेत्र में घाना स्थित मेखला रिसॉर्ट में युवती की हत्या के आरोपी अभिजीत उर्फ हेमंत दहाणे से ठगी के मामले में कोतवाली पुलिस द्वारा पूछताछ की गई। जानकारों के अनुसार रिमांड पर लिए गए आरोपी से पुलिस द्वारा यह जानने का प्रयास किया गया कि उसने ठगी का माल शक्कर व तेल किस व्यापारी को बेचा था, तो उसने पुलिस को गुमराह कर एक व्यापारी का नाम बताया, जिसने आरोपी को पहचानने से इनकार कर दिया। ठगी का सच जानने के लिए पुलिस अब नये सिरे से पूछताछ करेेगी।
ज्ञात हो कि रिसॉर्ट में 21 वर्षीय शिल्पा नामक युवती की हत्या करने वाले आरोपी अभिजीत उर्फ हेमंत को राजस्थान से पकड़कर जबलपुर लाया गया था। यहाँ आरोपी के खिलाफ दर्ज ठगी के मामले में पूछताछ करने के लिए कोतवाली पुलिस द्वारा 5 दिन की िरमांड पर लिया गया था। रिमांड पर लिए गए आरोपी से घंटों पूछताछ की गई। आरोपी से पूछा गया कि उसने गलगला क्षेत्र के व्यापारी मनीष चिमनानी से साढ़े 8 लाख का माल लेकर किस व्यापारी को बेचा था। काफी मशक्कत के बाद आरोपी ने एक व्यापारी का नाम उजागर किया। पुलिस ने जब व्यापारी को थाने बुलाया तो उसने आरोपी को पहचानने व उससे किसी प्रकार का लेन-देन किए जाने से इनकार कर दिया। इसके बाद पुलिस अब आरोपी से सघन पूछताछ कर यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि उसने ठगी का माल कहाँ खपाया था।

स्पा संचालक से होगी पूछताछ
जानकारी के अनुसार रिमांड पर लिए गए आरोपी से पूछताछ के साथ ही पुलिस उसे विजय नगर स्थित रेड रोज स्पा भी ले जा सकती है। हत्या के मामले में स्पा संचालक व कर्मचारियों से भी पूछताछ की जाएगी एवं वहाँ लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज जब्त की जाएगी जो महत्वपूर्ण साक्ष्य होगा।
नासिक में आधा दर्जन मामले में फरार
जानकारी के अनुसार आरोपी के खिलाफ महाराष्ट्र नासिक में 37 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें से करीब 8 मामलों में वह फरार है और नासिक पुलिस को उसकी तलाश है। जबलपुर पुलिस द्वारा नासिक पुलिस से संपर्क किया गया है और नासिक पुलिस आरोपी से पूछताछ करने जबलपुर आ सकती है।
कर्नाटक में भी किए अपराध
पुलिस के अनुसार जाँच में पता चला है कि आरोपी अभिजीत उर्फ हेमंत ने कॉन्वेंट से पढ़ाई पूरी की और एमसीए करने के बाद अपराध की दुनिया में कदम रखा। पहले वह वाहन चोरी करता था। उसने पूणे व कर्नाटक में भी अपराध किए और जो भी रकम कमाता था उससे ऐश करता था।