दैनिक भास्कर हिंदी: पुलिस एनकाउंटर में 2 दुर्दान्त डाकुओं की मौत- मजिस्ट्रियल जांच के लिए तय किए गए 7 बिंदु 

October 17th, 2019

डिजिटल डेस्क सतना। मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश की सरहद पर 12 वर्षों से आतंक का पर्याय रहे दो दुर्दान्त दस्यु बबुली और लवलेश कोल की लेदरी के जंगल में पुलिस एनकाउंटर के दौरान मौत के मामले की मजिस्ट्रीयल जांच के लिए जिला मजिस्टे्रट डा.सतेन्द्र सिंह ने 7 बिंदु तय किए हैं। उल्लेखनीय है, इन दोनों अंतरराज्यीय डकैतों पर एमपी-यूपी पुलिस ने 7 लाख 80 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। जांच की जिम्मेदारी मझगवां के उपखंड मजिस्ट्रेट एचके धुर्वे को सौंपी गई है। मजिस्ट्रियल जांच 4 नवम्बर को शाम 5 बजे तक एसडीएम कार्यालय मझगवां में की जाएगी।
 ये हैं जांच के पैमाने 
क्या, 16 सितंबर को जंगल में पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ के मृतक डकैत बबुली कोल और लवलेश कोल ही हैं? क्या, इन्हीं के नाम पुलिस अभिलेख में दर्ज दर्शाए गए हैं? मुठभेड़ किन परिस्थितियों में हुई? इसके अपरिहार्य कारण क्या हैं? क्या, मुठभेड़ में मारे गए दोनों व्यक्ति डकैत थे? मुठभेड़ में शामिल पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की क्या कोई उल्लेखनीय भूमिका थी?