दैनिक भास्कर हिंदी: चकमा देने वाल जबलपुर के जालसाज को तलाश रही है दिल्ली पुलिस , नहीं हो सकी गिरफ्तारी

June 18th, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। दिल्ली पुलिस की एक टीम एक जालसाज को तलाशने के लिए जबलपुर पहुंची। यहां दिल्ली पुलिस ने मदन-महल थाने पहुंचकर आरोपी को पकड़ने के लिए सहयोग मांगा। दिल्ली पुलिस द्वारा आरोपी का जो ठिकाना बताया गया था, वह गलत निकला और टीम को खाली हाथ रवाना होना पड़ा। सूत्रों के अनुसार दोपहर में थाने पहुंची दिल्ली पुलिस की टीम ने बताया कि वह एक धोखाधड़ी के मामले में आरोपी नितिन कुमार की तलाश में यहां आई है। आरोपी मदन-महल थाना क्षेत्र स्थित रेलवे कॉलोनी में रहता है।  

उक्त सूचना के आधार पर मदन-महल पुलिस के साथ दिल्ली पुलिस रेलवे कॉलोनी पहुँची और आरोपी नितिन की तलाश की, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिल सका। इस संबंध में सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा ने बताया कि दिल्ली पुलिस द्वारा जो पता बताया गया था, उस पते पर नितिन नामक कोई व्यक्ति निवास नहीं करता है और पता गलत निकलने के कारण आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

प्रताड़ित करने वाले आरोपी पति, सास, ससुर के खिलाफ मामला दर्ज 
 

राँझी थाना क्षेत्र में रहने वाली एक 27 वर्षीय महिला ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसका विवाह करीब 5 वर्ष पूर्व हुआ था। उस दौरान मेरे पिता ने दहेज में 11 लाख रुपए नकदी दिए थे। इसके बाद भी ससुराल वाले प्रताडि़त कर दहेज में 12 लाख रुपए लाने की माँग कर रहे हैं। दहेज लाने से इनकार करने पर मानसिक प्रताडऩा दी जाती है। महिला की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी पति, सास व ससुर के खिलाफ मामला दर्ज किया है। सूत्रों के अनुसार चम्पा नगर निवासी श्रीमती संगीता दुबे ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी शादी मई 2014 में हितेश दुबे  से हुई थी। शादी में उसके पिता ने नकद 11 लाख रुपए, 10 तोला सोना तथा 5 लाख रुपयों का कीमती घरेलू सामान दिया था। शादी के 1 वर्ष बाद से उसका पति हितेश दुबे, ससुर उमाशंकर दुबे, सास नीता दुबे तीनों मायके से 12 लाख रुपए लाने को कहने लगे। माँग पूरी न करने पर तीनों आए दिन मानसिक रूप से प्रताडि़त करते हैं। रिपोर्ट पर धारा 498ए, 34 भादवि 3, 4 दहेज एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जाँच में िलया गया है।
 

खबरें और भी हैं...