व्यवस्था: रेशम उत्पादन के रूप में किसानों मिल सकता है पूरक व्यवसाय

January 13th, 2022

डिजिटल डेस्क, दारव्हा | खेती के साथ रेशम उत्पादन से किसानों को संलग्न व्यवसाय मिल सकता है। जिससे उन्हें अच्छी आय हो सकती है। ऐसे विचार रेशम विकास अधिकारी पी.एम.चौगुले ने व्यक्त किए। वह तहसील के किन्ही वलगी के अमोल दुर्गे के खेत में जिला रेशम उद्योग कार्यालय व तहसील कार्यालय दारव्हा की संयुक्तता से रेशम उद्योग कार्यशाला में बोल रहे थे। इस समय चार तहसीलों के किसानों को इस उत्पादन की जानकारी देने के लिए बुलाया गया था। उनमे नेर, बाभुलगांव, आर्णी, दारव्हा तहसील के किसान शामिल हुए थे। गांव-गांव में रेशम उत्पादन हो इसके प्रयास किए जा रहे हैं। यही नहीं रेशम भी किसानों से खरीदने की व्यवस्था की गई है। या किसान खुद जहां उसे अच्छे दाम मिल सकते हैं वहां जाकर बेच सकता है। हर गांव के बारह किसानों को रेशम उत्पादन के लिए पंजीयन करवाया गया। इस कार्यक्रम में नायब तहसीलदार खाटीक, कृषि सहायक ओलंबे, ग्राम सचिव गायकवाडे, सरपंच संतोष सुरस्कार, सचिन डकरे, ग्रा.पं. सदस्य वसंत ठाकरे, प्रवीण जाधव, गणेश चतुर उपस्थित थे।  पी.जी. बावणे ने किसानों को मार्गदर्शन किया। इस समय सुरेश धुमाले, नीलेश आडे, किरण दुर्गे, उकंडा आडे, दिनेश कथले, तुषार दायेदार, महादेव जाधव, अक्षय दायदार, अनिरुद्ध सरताबे, कैलास चौधरी उपस्थित थे। कार्यक्रम के लिए अमोल दुर्गे, किरण दुर्गे ने सहयोग किया।

चुनाव के दिन साप्ताहिक बाजार रहेंगे बंद

यवतमाल नगर पंचायत मारेगांव और कलंब में सदस्य पद चुनाव के लिए 18 जनवरी 2022 को चुनाव होना है। इस दिन नगर पंचायत सार्वत्रिक चुनाव के गांव में आने वाले साप्ताहिक बाजार बंद रखने के आदेश जिलाधिकारी अमोल येडगे ने दिए हैं। इस दिन यवतमाल जिले के 5 नगर पंचायतों के 18 स्थानों के लिए वोट डलेंगे। 18 को जहां का भी बाजार है वहां बंद रखने की जानकारी संबंधित चुनाव निर्णय अधिकारी को दी गई है।