दैनिक भास्कर हिंदी: विधायकों को तोड़ने के लिए पचास करोड़ का ऑफर, वडेट्टीवार का बीजेपी पर जुबानी हमला

November 8th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। तेरहवीं विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने के बाद भी नई सरकार का गठन न होने के बाद अब विपक्ष अपने विधायकों की सुरक्षा में जुट गई। सरकार बनाने के लिए खरीद फरोख्त की संभावनो के मद्देनजर कांग्रेस ने अपने विधायकों को कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान भेज दिया है। इस बीच कांग्रेस-राकांपा नेताओं ने भाजपा पर दूसरे दलों के विधायकों को तोड़ने का आरोप लगाया है। हालांकि भाजपा ने विपक्ष के आरोपों को पूरी तरह बेबुनियाद बताया है। वरिष्ठ भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि विपक्ष अपने आरोपों को लेकर सबूत दे। विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय वडेट्टीवार ने कहा कि भाजपा शिवसेना सहित हमारे विधायकों को भी तोड़ने की कोशिश कर रही है। शिवसेना विधायकों को पचास करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जो टूटने वाले थे पहले ही टूट गए हैं अब हमारा कोई विधायक उनके साथ जाने वाला नहीं है। कांग्रेस विधायकों को जयपुर भेजे जाने के सवाल पर वडेट्टीवार ने कहा कि कुछ विधायक पर्यटन के लिए गए हैं। पार्टी ने किसी डर से किसी विधायक को जयपुर नहीं भेजा है। कांग्रेस विधायक सुनील केदार ने कहा कि मैं जयपुर नहीं गया हूं और मुंबई में ही हूं।  

शिवसेना विधायकों को भी ऑफरः मलिक

राकांपा प्रवक्ता विधायक नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि मंत्री गिरीष महाजन ने नाशिक के एक शिवसेना विधायक को 20 करोड़ रुपए का ऑफर दिया। मलिक ने कहा कि राकांपा विधायकों से किसी ने सम्पर्क नहीं किया है। हमें अपने विधायकों पर पूरा भरोसा है।    

खबरें और भी हैं...