दैनिक भास्कर हिंदी: प्रेमिका के पति को फंसाना चाहता था, शालीमार एक्सप्रेस में रख दिया विस्फोटक, अकोला से धराया

June 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। शालीमार एक्सप्रेस में विस्फोटक रखने के मामले में पुलिस ने आरोपी को अकोला से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम आनंद वानखेडे है। छानबीन में खुलासा हुआ है कि आरोपी ने अपनी प्रेमिका के पति को फंसाने के मकसद से ट्रेन के जनरल डिब्बे में उसकी तस्वीर, मोबाइल नंबर के साथ जिलेटिन के छड़ें, बैटरी, वायर रख दिए थे। बुधवार को शालीमार एक्सप्रेस के कोच से लोकमान्य तिलक टर्मिनस कारशेड में साफ सफाई के दौरान पांच जिलेटिन की छड़ें बरामद होने से हड़कंप मच गया था। इसके अलावा इसमें एक कागज में लिपटा संदेश था जिसमें लिखा था कि भाजपा सरकार को हमे दिखाना है कि हम क्या-क्या कर सकते हैं। हमारा पंजा पड़ने पर क्या होता है यह दिखाना है। पुलिस ने पत्र में दिए गए नंबर पर फोन किया तो वह रतनदीप गवई नाम के शख्स का था। यह भी खुलासा हुआ कि ट्रेन में रखी सामग्री से गवई का कोई लेना देना नहीं है। बातचीत के दौरान गवई ने पुलिस को बताया कि उसने कुछ दिनों पहले दोबारा शादी की है। उसकी पत्नी से एक शख्स इकतरफा प्रेम करता था और वह दोनों की शादी से खुश नहीं था। इस सुराग के आधार पर पुलिस आरोपी तक पहुंच गई। आरोपी ने पूछताछ में गवई को फंसाने के लिए पार्सल रखने की बात स्वीकार की है। 

क्रिकेटर की चाकू मारकर हत्या

महानगर के भांडुप इलाके में राकेश अंबादास पवार (35) नाम के एक क्रिकेटर की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। वारदात रात साढ़े 12 बजे के करीब चंदनवाडी विलेज रोड पर स्थित पेट्रोल पंप पर तीन अज्ञात लोगों ने अंजाम दी। हत्या की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक पवार देर रात किसी महिला के साथ मोटरसाइकल पर जा रहे थे। इसी दौरान पहले से पेट्रोलपंप के पास मौजूद तीन लोगों ने पवार पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। पेट्रोलपंप के कर्मचारी बुरी तरह जख्मी पवार को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। भांडुप पुलिस ने हत्या के आरोप में एफआईआर दर्ज की है वहीं अपराध शाखा ने भी मामले की समानांतर जांच शुरू कर दी है। पुलिस को शक है कि हत्याकांड को साजिश रचकर अंजाम दिया गया है। पुलिस वारदात के समय पवार के साथ मौजूद महिला से भी पूछताछ कर रही है। पुलिस ने उसके मोबाइल की भी जांच कर रही है जिससे यह पता लगाया जा सके कि वह किन लोगों के संपर्क में थी। इसके अलावा आरोपियों की पहचान के लिए पेट्रोलपंप पर लगे सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले जा रहे हैं। पुलिस के मुताबिक आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बता दें कि पवार अपनी पत्नी और दो छोटे बच्चों के साथ भांडुप इलाके में रहते थे। वे बच्चों को क्रिकेट का प्रशिक्षण भी देते थे।