दैनिक भास्कर हिंदी: रेलवे में हाई अलर्ट, ट्रेनों के एसी कोच से पर्दे और लिनेन से कंबल हटे

March 16th, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर । जानलेवा होते जा रहे कोरोना वायरस को लेकर रेलवे में हाई अलर्ट घोषित होने के बाद पश्चिम-मध्य रेल प्रशासन ने रेल अस्पताल के अधिकारियों व स्टाफ के साथ जिम्मेदार अधिकारियों को निर्देश जारी कर खुले शब्दों में फरमान जारी कर कहा है िक जबलपुर रेलवे स्टेशन और मदन-महल रेलवे स्टेशन पर देश भर से आने वाली ट्रेनों पर कड़ी नजर रखकर उनके भीतर जाकर जाँच करो और अगर कोई कोरोना से संक्रमित या फिर संदिग्ध यात्री दिखाई देता है, तो उसे तुरंत रेलवे अस्पताल भेजने की व्यवस्था की जाए। वहीं कोरोना वायरस से निपटने के लिए शासकीय रेल अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है और चिकित्सकों की विशेष टीम बनाकर संदिग्ध मरीजों का इलाज करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, साथ ही कोरोना से बचाव के लिए स्पेशल ड्रेसेस, स्पेशल किट्स भी उपलब्ध कराई गई हैं। 
कंबल की जगह मिल रही एक्स्ट्रा बेडशीट, सेनिटाइजर से सफाई

रोना के संक्रमण का असर कम करने के लिए रेलवे बोर्ड के निर्देश आने के बाद से ट्रेनों के एसी कोचों से पर्दे हटा दिए गए हैं। वहीं पैसेंजर्स को दिए जाने वाले लिनेन यानी कंबल, चादर, तकिया में से कंबल हटा दिए गए हैं, जबकि कुछ ट्रेनों में यह प्रक्रिया चल रही है। उनकी जगह पर यात्रियों को एक्स्ट्रा बेडशीट दी जा रही है। यदि यात्री कंबल की माँग करता है, तो उसे कवर वाला कंबल दिया जा रहा है। वहीं ट्रेनों में बर्थ, हैंडल, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण आदि को सेनिटाइजर से पोंछा जा रहा है, ताकि संक्रमण को रोका जा सके। 
डब्ल्यूसीआरईयू ने रनिंग स्टाफ का ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट बंद करने की माँग कीवहीं डब्ल्यूसीआरईयू के मंडल सचिव नवीन लिटोरिया, मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने पमरे जीएम शैलेन्द्र कुमार सिंह से मुलाकात कर कोरोना वायरस के मद्देनजर रनिंग स्टाफ का ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट बंद करने और मास्क के साथ सेनिटाइजर उपलब्ध कराने की माँग की।
 

खबरें और भी हैं...