कड़ी कार्रवाई की मांग: छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ती का अपमान, मराठा महासंघ का आक्रोश आंदोलन

December 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, खामगांव। हिंदुस्तान के आराध्य देव छत्रपति शिवाजी महाराज इनके कर्नाटक राज्य के बेंगलूर में पुतले की अवमानना की गई। इस घटना के निषेध में १९ दिसम्बर को खामगांव अखिल भारतीय मराठा महासंघ की ओर से जोरदार आक्रोश आंदोलन किया गया। इस दौरान तीव्र घोषणाबाजी करते आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई।बंेगलूर में छत्रपति शिवाजी महाराज के अश्वारूढ़ पुतले की अवमानना की गई, इस घटना के निषेध में रविवार १९ दिसम्बर को मराठा महासंघ की ओर से जनआक्रोश आंदोलन किया गया। सबसे पहले छत्रपति शिवाजी महाराज स्टेडियम में स्थित छत्रपति के अश्वारूढ पुतले को दुग्धाभिषेक कर तीव्र घोषणाबजी करते रोष व्यक्त किया गया। पश्चात उपविभागीय राजस्व अधिकारी के जरिए महामहिम राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे को लिखित ज्ञापन देकर महापुरूषों की अवमानना करने वाले दोषियों पर तुरंत कड़ी कार्रवाई करें एवं शिवप्रेमियों की भावना को न्याय दिलवाएं। दोषियों पर तुरंत कानूनी कार्रवाई नहीं की गई तो तीव्र आंदोलन किया जाएगा, ऐसी चेतावनी भी ज्ञापन में दी गई है। इस दौरान अभाम महासंघ के सभी पदाधिकारी, कार्यकर्ता एवं शिवप्रेमी बड़े पैमाने पर उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...