दैनिक भास्कर हिंदी: Sex for job scandal: कर्नाटक के मंत्री रमेश जारकीहोली ने इस्तीफा दिया, नौकरी दिलाने के बहाने महिला के यौन उत्पीड़न का आरोप

March 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क, बेंगलुरु। कर्नाटक के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। 'सेक्स फॉर जॉब स्कैंडल' में घिरने के बाद उन्होंने इस्तीफा दिया है। उनका इस्तीफा मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने स्वीकार कर लिया है और राज्यपाल के पास भेज दिया है। जल संसाधन मंत्री पर आरोप है कि उन्होंने कर्नाटक पावर ट्रांसमिशन कॉरपोरेशन में नौकरी दिलाने के बहाने महिला का यौन उत्पीड़न किया और फिर अपने वादे से मुकर गए। 

बता दें कि एक सीडी सामने आई थी, जिसमें कथित तौर पर बीजेपी सरकार के जल संसाधन मंत्री रमेश जारकीहोली किसी अनजान महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति दिखाई दे रहे हैं। कन्नड़ समाचार चैनलों ने इस क्लिप का प्रसारण किया था। हालांकि जारकीहोली ने इसे फेक बताते हुए इस्तीफा देने से इनकार कर दिया था। हालांकि भाजपा सरकार को उठानी पड़ रही शर्मिंदगी के बाद पार्टी ने उन्हें इस्तीफा देने के लिए इस शर्त पर मना लिया कि निर्दोष पाए जाने पर पार्टी दोबारा से उन्हें उनके पद पर बहाल कर देगी। रमेश जारकीहोली ने अपने इस्तीफे में लिखा, 'मुझ पर लगे आरोप झूठे हैं लेकिन फिर भी निष्पक्ष जांच के लिए  मैं नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहा हूं।'

वहीं दूसरी ओर बीजेपी विधायक बालचंद्र जारकीहोली ने अपने भाई  रमेश जारकीहोली के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की सीबीआई जांच कराए जाने की मांग की और ‘फर्जी सीडी’ जारी करने वाले के खिलाफ 100 करोड़ रुपए का मानहानि का मुकदमा दायर करने की धमकी भी दी। बता दें कि सामाजिक कार्यकर्ता और नागरिक हक्कू होरता समिति के अध्यक्ष दिनेश कल्लाहल्ली ने इस मामले से जुड़ा टेप मीडिया में जारी किया था।

मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा से मुलाकात के बाद बालचंद्र ने कहा कि यदि रमेश जारकीहोली ने कुछ गलत नहीं किया है, तो उन्हें इस्तीफा नहीं देना चाहिए और आपत्तिजनक वीडियो वाली सीडी जारी करने के पीछे जो लोग हैं, उनका पता लगाने के लिए जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘जिस महिला के साथ अन्याय होने का दावा किया जा रहा है, उसकी पहचान नहीं पता है। किसी ने यह दावा करते हुए शिकायत की कि महिला के रिश्तेदारों ने ऐसा करने को कहा। इस शिकायत को दर्ज करना ही गलत है, क्योंकि पीड़ित व्यक्ति को शिकायत करनी चाहिए, न कि सड़क पर चल रहे किसी भी व्यक्ति को ऐसा करना चाहिए।’

 

खबरें और भी हैं...