comScore

मोखा की होटल में छापा, कई दस्तावेज जब्त नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन का मामला

मोखा की होटल में छापा, कई दस्तावेज जब्त नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन का मामला

एसआईटी ने की सीसीटीवी कैमरों की जाँच, मिले कुछ साक्ष्य, मैनेजर सोनिया के लिए अलॉट था एक रूम  
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
नकली रेमडेसिविर मामले में आरोपी बनाए गए सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत मोखा की अस्पताल के सामने ही स्थित होटल सिटी इन पर बुधवार को एसआईटी ने छापा मारा। कार्रवाई के दौरान होटल के सीसीटीवी कैमरे खँगाले। इस दौरान इस बात का खुलासा हुआ है कि नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन का बैग होटल में भी पहुँचाया गया था। अस्पताल कर्मियों के अलावा अस्पताल की मैनेजर सोनिया भी कई बार होटल में ही रुक जाती थी। उसके लिए एक रूम भी एलॉट था। कोरोना काल में इस होटल का उपयोग अस्पताल के कोविड वार्ड में ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के ठहरने के लिए होता था। सूत्रों के अनुसार कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद अस्पताल में मरीजों की भीड़ बढऩे पर अस्पताल की मैनेजर सोनिया खत्री शुक्ल के लिए होटल सिटी इन में एक कमरा आवंटित किया गया था। जाँच में इस बात की पुष्टि हुई कि नकली इंजेक्शन का बैग अस्पताल से पहले होटल में मैनेजर सोनिया के रूम में पहुँचाया गया था वहाँ से बैग को मोखा के घर भेजा गया था। जानकारी जुटाने के लिए होटल पहुँची एसआईटी की टीम द्वारा पूरी होटल की सर्चिंग की गई और होटल में लगे सीसीटीवी कैमरों का रिकार्ड व होटल में रुकने वाले कर्मचारियों की जानकारी संबंधी दस्तावेज भी जब्त किए हैं। 
एसआईटी के पास पहुँची शिकायत - सबूत के तौर पर पेश की गईं नकली रेमडेसिविर की खाली शीशियों को एसआईटी के पास पहुँचाया गया है। जानकारों के अनुसार इस शिकायत को भी जाँच में लिया गया है। इस मामले में पुलिस शिकायत करने वाले मरीज के परिजनों के बयान दर्ज करेगी। 
शुक्रवार को गुजरात जाएगी टीम -  गुजरात पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गये आरोपी सपन जैन, रीवा के सुनील मिश्रा व कौशल वोरा को प्रोडक्शन रिमांड पर लेकर जबलपुर लाने के लिए पुलिस टीम को शुक्रवार 11 जून को गुजरात भेजा जाएगा। जानकारों के अनुसार सूरत पुलिस 11 जून को उन्हें कोर्ट में पेश करेगी उसके बाद जबलपुर पुलिस तीनों की रिमांड लेगी।     
 

कमेंट करें
9T8AX