दैनिक भास्कर हिंदी: जनरेटर से जहरीले धुंए का रिसाव, एसी में सो रहे एक ही परिवार के 7 सदस्यों की दर्दनाक मौत

July 13th, 2021

हाईलाइट

  • चंद्रपुर में दिल दहलाने वाला हादसा
  • एक ही परिवार के सात लोगों की मौत

डिजिटल डेस्क, चंद्रपुर। जनरेटर से एसी लगाकर सोना एक परिवार के लिए जानलेवा साबित हुआ। जनरेटर के धुंए के कारण दम घुटने से एक ही परिवार के 7 लोगों की मौत हो गई। हादसा दुर्गापुर इलाके का है, जहां रहने वाले एक परिवार ने सोमवार देर रात बिजली गुल होने के बाद गर्मी से बचने के लिए जनरेटर शुरु किया। जिससे एसी लगाया गया था, इसके बाद परिवार के सदस्य सो गए।  जनरेटर से जनरेटर से अचानक कार्बन डाइऑक्साइड गैस का रिसाव शुरू हो गया, जिसने इन्हें मौत की नींद सुला दिया। परिवार के 7 सदस्यों की दर्दनाक मौत हो गई। सुबह जब यह मामला उजागर हुआ तो पुलिस ने दरवाजा तोड़कर सभी को अस्पताल पहुंचाया। इस परिवार में दो दिन पहले ही नई दुल्हन आई थी। घटना में नवदंपति की भी मौत हुई है। 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दुर्गापुर निवासी निजी ठेकेदार रमेश लष्कर के घर की बिजली सोमवार देर रात गुल हुई। परिवार ने अंधेरे और गर्मी की परेशानी से बचने के लिए घर में जनरेटर शुरू किया। इसी जनरेटर से एसी शुरू किया गया और घर के सारे सदस्य चैन से सो गए। लेकिन जनरेटर के धुएं ने एसी के बंद कमरे को जहरीला कर दिया। नींद में ही दम घुटने से रमेश लष्कर(45 वर्ष), अजय लष्कर(21), लखन लष्कर(10), कृष्णा लष्कर(8), पूजा लष्कर(14), माधुरी लष्कर(20) की मौत हो गई।

मंगलवार सुबह तक घर से धुएं का गुबार उठता रहा। यह देख पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने तत्काल घर का दरवाजा तोड़कर सभी को अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने परिवार के 6 लोगों को मृत घोषित कर दिया था। जबकि दासू लष्कर (40) की उपचार के दौरान मौत हो गई। उल्लेखनीय है कि अजय लष्कर का 10 दिनों पहले ही माधुरी नामक युवती से विवाह हुआ था। दो दिन पहले ही माधुरी उनके घर दुल्हन बनकर आई थी। पड़ोसी बताते हैं कि जनरेटर में देर रात विस्फोट भी हुआ था, जिसकी आवाज सुनाई दी थी। विस्फोट के बाद धुआं बंद कमरे में फैला था। मामले की जांच जारी है।
 

खबरें और भी हैं...