दैनिक भास्कर हिंदी: विदर्भ जमकर बरस रहे मेघ, गोंदिया के किसानों को दमदार बारिश का इंतजार

July 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, गोंदिया। एक ओर जहां विदर्भ के नागपुर सहित कई क्षेत्रों में  बारिश कहर बरपा रही है, वहीं दूसरी ओर गोंदिया जिले के धान उत्पादक किसानों को जुलाई माह के सात दिन बीत जाने के बावजूद अभी भी दमदार बारिश की प्रतीक्षा है। ताकि वे धान की रोपाई का काम शुरू कर सकें। फिलहाल कुछ स्थानों पर किसानों ने धान की रोपाई शुरू की है। खासतौर पर जिन किसानों के पास निजी तौर पर सिंचाई की व्यवस्था है। लेकिन बारिश के पानी पर निर्भर जिले के अधिकांश किसान अभी भी रोपाई शुरु करने के लिए बरसात का इंतजार कर रहे हैं।

अब तक जिले में खंडित बारिश हो रही है। अर्थात किसी स्थान पर अगर मूसलाधार बारिश होती है तो दूसरे स्थान पर तेज धूप खिली होती है। जिसके कारण बारिश का अंदाजा लगाना कठिन हो रहा है। जिलाधिकारी कार्यालय के नियंत्रण कक्ष से मिली जानकारी के अनुसार पिछले 24  घंटे के दौरान जिले की लगभग सभी तहसीलों में बारिश दर्ज की गई है। 7 जुलाई को सुबह 8 बजे तक गोंदिया तहसील में 17.00  मिमी, गोरेगांव में 16.50  मिमी, तिरोड़ा में 18.66  मिमी, अर्जुनी मोरगांव में 24.96  मिमी, आमगांव में 13.90  मिमी, सालेकसा में 20.73 मिमी, सड़क अर्जुनी में 20. 53  मिमी एवं देवरी में 23.00  मिमी बारिश रिकार्ड की गई है।

अब तक हुई बारिश
जिले में इस वर्ष 1 जून से 7 जुलाई 2018 तक हुई औसत बारिश की तहसीलवार प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक गोंदिया तहसील में 182.08 मिमी, गोरेगांव में 196.06 मिमी, तिरोड़ा में 200.01मिमी, अर्जुनी मोरगांव में 302.06 मिमी, आमगांव में 148.07 मिमी, सालेकसा में 146.08  मिमी, सड़क अर्जुनी में 377.07 मिमी एवं देवरी में 302.06 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। 

जलाशयों की स्थिति
जिले के प्रमुख जलाशयों में जल संग्रहण की स्थिति में मामूली बढ़ोतरी दर्ज की गई है, लेकिन इसे संतोषजनक नहीं कहा जा सकता। 7 जुलाई को सुबह 8.30 बजे तक जिले के इटियाडोह जलाशय में 24.67 प्रतिशत, सिरपुर बांध में 4.95  प्रतिशत, पुजारीटोला में 29.17 प्रतिशत, कालीसराड़ में 19.14 प्रतिशत एवं संजय सरोवर में 13.21 प्रतिशत जल संग्रहण दर्ज किया गया है।