• Dainik Bhaskar Hindi
  • Politics
  • The High Court handed over the investigation of the theft of documents from the court to the CBI, the TDP leader sought the resignation of the Andhra Pradesh minister.

आंध्र प्रदेश: हाईकोर्ट ने अदालत से दस्तावेजों की चोरी की जांच सीबीआई को सौंपी, टीडीपी नेता ने आंध्र प्रदेश के मंत्री से मांगा इस्तीफा

November 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, अमरावती। आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट ने नेल्लोर की अदालत से दस्तावेजों की चोरी की जांच सीबीआई को सौंप दी है। इसके बाद टीडीपी के वरिष्ठ नेता सोमीरेड्डी चंद्रमोहन रेड्डी ने गुरुवार को कृषि मंत्री काकानी गोवर्धन रेड्डी के तत्काल इस्तीफे की मांग की है। तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के नेता ने कहा कि अगर गोवर्धन रेड्डी में कोई नैतिक मूल्य हैं तो उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। चंद्रमोहन रेड्डी ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि गोवर्धन रेड्डी ने कथित तौर पर नकली दस्तावेज बनाए, जिसमें दिखाया गया कि टीडीपी नेता कुछ विदेशी देशों में 1,000 करोड़ रुपये की संपत्ति के मालिक हैं।

जब मैंने पुलिस में शिकायत की तो इन फर्जी दस्तावेजों के संबंध में एक जांच की गई और इन फर्जी दस्तावेजों को तैयार करने वाले गिरोह को हिरासत में ले लिया गया। टीडीपी नेता ने आरोप लगाया कि इन फर्जी दस्तावेजों को तैयार करने के पीछे गोवर्धन रेड्डी थे। गोवर्धन रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया और सशर्त जमानत हासिल की।

हालांकि पुलिस ने सबूत के साथ दस्तावेज और जांच रिपोर्ट अदालत में पेश की। टीडीपी नेता ने कहा कि गोवर्धन रेड्डी ने इस साल 11 अप्रैल को मंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन कुछ ही दिनों के भीतर ये दस्तावेज कोर्ट से चोरी हो गए। हाईकोर्ट ने इस पर गंभीरता से विचार किया और इन गायब फाइलों के मामले को स्वत: संज्ञान लेते हुए इसकी सीबीआई जांच के आदेश दिए।

उन्होंने कहा कि गोवर्धन रेड्डी को तुरंत मंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। टीडीपी नेता यह भी चाहते थे कि सीबीआई इस मामले की जल्दी जांच करे। साथ ही कहा कि मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी को उन्हें मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर देना चाहिए क्योंकि उन्हें भी मंत्री के खिलाफ लंबित मामलों की जानकारी है।

(आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.