comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

साढ़े 8 लाख के खाद्यान्न की कालाबाजारी पर समिति प्रबंधक के साथ सेल्समैन गिरफ्तार, भेजे गए जेल 

साढ़े 8 लाख के खाद्यान्न की कालाबाजारी पर समिति प्रबंधक के साथ सेल्समैन गिरफ्तार, भेजे गए जेल 

करतूत छिपाने राशन दुकान में चोरी की झूठी रिपोर्ट कराई थी दर्ज
डिजिटल डेस्क सतना।
शासकीय उचित मूल्य की दुकान के लिए आवंटित खाद्यान्न की कालाबाजारी करने के आरोप में रामनगर पुलिस ने समिति प्रबंधक और सेल्समैन के खिलाफ अपराध दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। टीआई विद्याधर  पांडेय ने बताया कि विगत 23 नवम्बर को सरकारी राशन दुकान के सेल्समैन विमल त्रिपाठी पुत्र इंद्रदत्त त्रिपाठी 42 वर्ष ने अज्ञात बदमाशों द्वारा 345 बोरी गेंहू और 55 बोरी चावल चोरी करने की शिकायत दर्ज कराई थी,मगर जब घटना स्थल का परीक्षण कर जांच-पड़ताल की गई तो पता चला कि समिति प्रबंधक पुरुषोत्तम जायसवाल पुत्र भूरेलाल 55 वर्ष के साथ मिलकर सेल्समैन ने 8 लाख 54 हजार 710 रुपए का अनाज जिला मुख्यालय से आवंटित होने के बाद बीच रास्ते में ही खुर्द-बुर्द कर दिया और अपनी करतूत छिपाने के लिए चोरी की झूठी रिपोर्ट करने पहुंच गया। आरोपियों ने पुलिस को गुमराह करने के लिए दुकान व शटर के ताले तोडऩे के साथ ही अनाज की बोरियां भी अस्त-व्यस्त कर दी थीं।
ऐसे खुली पोल 
बड़े पैमाने पर अनाज गायब होने की सूचना पर पुलिस ने अमरपाटन एसडीएम को दी तो उन्होंने खाद्य विभाग के निरीक्षक राजीव पांडेय को जांच कर प्रतिवेदन सौंपने के निर्देश दे दिए, तब खाद्य निरीक्षक ने रामनगर जाकर दुकान का भौतिक परीक्षण करने के साथ ही रिकार्ड देखा तो उसमें खाद्यान्न की इंट्री नहीं मिली,वहीं  वितरण में भी काफी खामियां सामने आईं। इस पूरे मामले में प्रबंधक और सेल्समैन की भूमिका संदिग्ध पाते हुए खाद्य अधिकारी ने कार्रवाई की अनुशंसा के साथ एसडीएम को प्रतिवेदन सौंपा तथा उनके आदेश पर बुधवार शाम को थाने में एफआईआर दर्ज करने का पत्र टीआई को दे दिया। लिहाजा पुलिस ने आईपीसी की धारा 419,406, 409 और 3/7 ईसी एक्ट के तहत कायमी करते हुए समिति प्रबंधक पुरुषोत्तम जायसवाल और सेल्समैन विमल त्रिपाठी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया,जहां से दोनों को जेल भेज दिया। 
 

कमेंट करें
4a3Hi