comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, मिलेगा पुण्यलाभ

चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, मिलेगा पुण्यलाभ

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चैत्र नवरात्रि का समापन राम नवमी के साथ होगा। इससे पहले दुर्गाअष्टमी पर कन्या पूजन की जाती है। वहीं कई लोग दुर्गानवमीं या रामनवमीं पर कन्या पूजन करते हैं। ऐसा माना जाता है कि मां दुर्गा की उपासना से सभी पाप धुल जाते हैं। जो भक्त अपने घर में माता की स्थापना करते हैं, नौ दिनों तक पूजा करते हैं, व्रत रखते हैं, उनकी नवरात्रि पूजा कन्या पूजन के साथ ही पूरी मानी जाती है। 

हालांकि इस बार ​भी कोरोना का साया छाया हुआ है। ऐसे में कई शहरों में कोरोना की रोकथाम के लिए लॉकडाउन लगाया गया है। जिसके चलते घर पर बाहर से किसी भी कन्या को आमंत्रित नहीं कर सकते हैं। ऐसे में व्रती परेशान हैं कि कैसे कन्या पूजन किया जाए। तो आपको बता दें कि आप घर पर रहकर ही कन्या पूजन कर सकते हैं। कैसे आइए जानते हैं...

आठवें दिन करें मां महागौरी की पूजा, असंभव कार्य भी होंगे संभव

ऐसे करें कन्या पूजन
- कोरोना काल या लॉकडाउन में कन्या पूजन के लिए घर की बेटी, भतीजी और कोई भी कन्या को भोजन करवाकर उनका पूजन करें। 
- कन्या पूजन के लिए सर्वप्रथम कन्या के चरण धोएं और आसान पर बिठाएं।
- दीपक-ज्योति और धूप जलाएं और कन्या पूजन शुरू करें। 
- जल छिड़ककर पवित्र करें, सिंदूर और अक्षत का तिलक लगाएं। - बाईं कलाई में कलावा बांधे, लाल माला पहनाएं। 
- शुद्धिकरण के लिए जल छिड़कें और जोर से बोलें दुर्गा माता के जयकारे लगाएं।
- अगर घर में छोटी कन्या न हो तो उस स्थिति में घर के मंदिर में माता का पूजन करें।
- माता को उन्हें विभिन्न प्रकार के भोग लगाएं और माता को भेंट सामग्री चढ़ाएं।
- जो प्रसाद माता को चढ़ाएं उसका कुछ हिस्सा गाय को भी खिला दें। फिर माता के प्रसाद को घर के सभी लोग ग्रहण करें।
- कन्या को मीठा भोजन जरूर कराएं और उन्हें भेंट दें।
- कन्या पूजन में प्रसाद के तौर पर सूखे नारियल, मखाना, मूंगफली, मिसरी आदि चीजों की भी भेंट कर सकते हैं। 

कमेंट करें
ZNld0