पन्ना: निर्विरोध हुआ जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष का निर्वाचन

July 30th, 2022

डिजिटल डेस्क,  पन्ना। पन्ना जिला पंचायत के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के निर्वाचन की कार्यवाही आज कलेक्ट्रेट कार्यालय पन्ना में संपन्न हो गई। महिला आरक्षित जिला पंचायत के अध्यक्ष के पद पर जिला पंचायत पन्ना के वार्ड क्रमांक १० से निर्वाचित होकर जिला पंचायत सदस्य बनी श्रीमती मीना राजे निर्विरोध रूप से जिला पंचायत पन्ना की अध्यक्ष निर्वाचित हुई है। वहीं उपाध्यक्ष पद हेतु जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक ०४ से निर्वाचित जिला पंचायत सदस्य भी निर्विरोध रूप से जिला पंचायत उपाध्यक्ष निर्वाचित घोषित किये गये है। जिला पंचायत के नवनिर्वाचित अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी समर्थित है। श्रीमती मीना राजे पुष्पराज सिंह पन्ना जिला पंचायत की सातवीं अध्यक्ष होगी। जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय में निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पीठासीन अधिकारी कलेक्टर पन्ना संजय कुमार मिश्रा द्वारा दोपहर १२ बजे से जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष की निर्वाचन की कार्यवाही प्रांरभ करवाई गई। जिला पंचायत अध्यक्ष हेतु मीना राजे द्वारा नामांकन प्रस्तुत कर अपनी दावेदारी जताई गई। निर्धारित समयवधि के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष हेतु एकल नामांकन श्रीमती मीनाराजे का होने पर पीठासीन अधिकारी कलेक्टर पन्ना द्वारा उन्हें जिला पंचायत पन्ना का अध्यक्ष निर्वाचित घोषित किया गया तथा इस आशय का प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। जिला पंचायत अध्यक्ष के निर्वाचन की कार्यवाही संपन्न होने के उपरांत जिला पंचायत उपाध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया प्रारंभ की गई। जिसको लेकर वार्ड क्रमांक ४ से जिला पंचायत सदस्य बने संतोष सिंह यादव द्वारा उपाध्यक्ष पद हेतु अपना नामांकन प्रस्तुत किया गया। नामांकन की समयावधि के दौरान दूसरे किसी अन्य अभ्यर्थी द्वारा नामांकन प्रस्तुत नही किया गया और समयावधि संपन्न हो जाने के बाद उपाध्यक्ष पद हेतु एकल नामांकन होने पर पीठासीन अधिकारी कलेक्टर पन्ना द्वारा संतोष यादव को पन्ना जिला पंचायत का उपाध्यक्ष निर्वाचित घोषित करते हुए इस आशय का प्रमाण पत्र प्रदान कर दिया गया। 
निर्वाचन की कार्यवाही संपन्न होने के बाद पहुंचे अधिकांश जिला पंचायत सदस्य 
जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के निर्वाचन को लेकर भाजपा के रणनीतिकारों द्वारा तैयार की गई  स्क्रीप्ट अंत-अंत तक रहस्मयी बनी रही। जिला पंचायत के नवनिर्वाचित १५ सदस्यों में से भारतीय जनता पार्टी के द्वारा अपने पाले में १२ सदस्य का काफिला पहले जुटा लिया गया था। पाले में आए सदस्य कहीं इसके बाद भी पाला न बदल दे इसको लेकर सुरक्षात्मक रणनीति के तहत भाजपा के पाले में आए जिला पंचायत सदस्यों को तीर्थाटन तथा भ्रमण के लिए भेज दिया गया था। जानकारी के अनुसार जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के निर्वाचन की तारीख २९ जुलाई निर्धारित होने के एक दिन पूर्व जिला पंचायत सदस्यों की वापसी हो गई परंतु वे पन्ना नही पहँुचे और रात्रि विश्राम उनका खजुराहो में ही रहा। वहीं जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष किसे बनाया जाना है इसका भी ऐलान नहीं किया गया। आज दोपहर १२ बजे जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के निर्वाचन की कार्यवाही प्रारंभ हुई तो भाजपा की ओर से जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए समर्थित प्रत्याशी श्रीमती मीनाराजे सिंह उपाध्यक्ष के लिए समर्थित प्रत्याशी संतोष सिंह यादव तथा एक अन्य जिला पंचायत सदस्य श्रीमती संध्या ध्रुव लोधी एवं दिनेश कुमार भुर्जी भी उपस्थित थे वहीं इसके अलावा कांग्रेस समर्थित जिला पंचायत सदस्य ममता शर्मा तथा रावेन्द्र प्रताप सिंह भी उपस्थित थे जिला पंचायत के शेष ८ सदस्य कलेक्ट्रेट कार्यालय तक जब पहँुचे जब जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष की निर्वाचन की कार्यवाही संपन्न हो गई।
नामांकन में एक दूसरे के समर्थक बने जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष
जिला पंचायत अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के दौरान भाजपा के पाले में रहे १२ जिला पंचायत सदस्यों में से निर्वाचन की कार्यवाही के दौरान ५ जिला पंचायत सदस्य श्रीमती मीनाराजे सिंह,वार्ड क्रमांक ४ से जिला पंचायत सदस्य संतोष सिंह यादव,वार्ड क्रमांक १ से निर्वाचित जिला पंचायत संतोष यादव तथा वार्ड क्रमांक ३ से निर्वाचित जिला पंचायत सदस्य दिनेश भुर्जी ही मौजूद थे। शेष अन्य  ७ सदस्य इस दौरान खजुराहो से रवाना हो चुके थे परंतु पन्ना नही पहँैुचे थे। जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए निर्वाचन मीनाराजे सिंह द्वारा प्रस्तुत नामांकन में समर्थक के रूप में जिला पंचायत सदस्य वार्ड क्रमांक ४ संतोष सिंह यादव प्रस्तावक तथा दिनेश कुमार भुर्जी समर्थक बनें। वहीं जिला पंचायत उपाध्यक्ष के लिए नामांकन प्रक्रिया प्रारंभ होने पर उपाध्यक्ष पद के लिए वार्ड क्रमांक ४ से    निर्वाचित नामांकन दाखिल करने वाले अभ्यर्थी संतोष सिंह यादव के प्रस्तावक के रूप में श्रीमती मीनाराजे द्वारा तथा समर्थक के रूप में जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक १ से निर्वाचित संतोष द्वारा हस्ताक्षर किये गये। 
गृहणी एवं स्नातक है जिला पंचायत अध्यक्ष मीनाराजे 

जिला पंचायत पन्ना  की नवनिर्वाचित ४५ वर्षीय अध्यक्ष मीनाराजे सिंह सिमरिया क्षेत्र के प्रतिष्ठत राजनैतिक परिवार से संबंधित है उनके प्रति पुष्पराज सिहं सिमरिया ग्राम पंचायत सरपंच रह चुके है। श्रीमती मीनाराजे द्वारा प्रस्तुत अपने शपथ पत्र में गृहणी तथा शिक्षा कला संकाय में स्नातक होना उल्लेखित किया है। श्रीमती सिंह ने वर्ष २०२१-२२ में अपनी वार्षिक आय ३ लाख ५२ हजार ७९० रूपये तथा पति पुष्पराज सिंह ४ लाख २६ हजार ९२० रूपये प्रस्तुत की है। वही अपनी चल सम्पत्ती १४ लाख २५ हजार रूपये तथा अचल सम्पत्ति ५५ लाख रूपये बताई है तथा पति की चल सम्पत्ति १ करोड़ ६९ लाख एवं अचल सम्पत्ति ८७ लाख उल्लेख की गई है। वह सिमरिया तहसील के लुधनी ग्राम की रहने वाली है। 
किसान है जिला पंचायत उपाध्यक्ष संतोष सिंह यादव

जिला पंचायत के नवनिर्वाचत उपाध्यक्ष संतोष यादव पिता हुकुम सिंह यादव किसान है तथा इसके अलावा ठेकेदारी का कार्य भी करते है। उन्होनें ८वीं तक पढ़ाई की है। दरेरा ग्राम के मूल निवासी है श्री यादव द्वारा प्रस्तुत अपने शपथ पत्र में वर्ष २०२१-२२ मे ंअपनी वार्षिक आय १८ लाख ५० हजार ६८० रूपये पत्नी की १० हजार १२६ रूपये आश्रितो की आय १० हजार १२६ रूपये तथा ४ लाख ९४ हजार ४३० रूपये होना उल्लेख किया है। स्वयं की चल सम्पत्ति का मूल्य ०१ करोड़ ६९ लाख ७० हजार ८७९ रूपये अचल सम्पत्ति का मूल्य ५० लाख रूपये पत्नी की चल सम्पत्ति की मूल्य २३ लाख २० हजार ९३८ रूपये,अचल सम्पत्ति का मूल्य ३५ लाख रूपये,आश्रित क्रमांक १ की चल सम्पत्ति का मूल्य १ लाख ९३ हजार रूपये अचल सम्पत्ति का मूल्य १५ लाख रूपये,आश्रित क्रमांक २ की चल सम्पत्ति का मूल्य २ लाख ५० हजार रूपये अचल सम्पत्ति का मूल्य २७ लाख रूपये होना उल्लेख किया है।श्री सिंह ने बैंक और वित्तीय संस्थाओं का कुल ऋण ९२ लाख ०६ हजार २७७ रूपये बताया है।