फैक्ट चैक: क्या सरकार द्वारा कर्मचारियों को बिना ब्याज के कार लोन दिया जा रहा है? जाने वायरल मैसेज का सच

August 7th, 2022

डिजिटल डेस्क, भोपाल। आजकल सोशल मीडिया पर एक मैसेज बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है। इस मैसेज दावा किया जा रहा है कि भारत सरकार सभी सरकारी कर्मचारियों को बिना ब्याज के कार लोन दे रही है। इसके लिए सरकार ने टाटा मोटर्स से करार किया है।

क्या है वायरल मैसेज

वायरल मैसेज में एक लेटर है जिसमें लिखा है, भारत सरकार ने अपने कर्मचारियों को मुफ्त कार लोन की सुविधा प्रदान करने के लिए टाटा मोटर्स से करार किया है। सरकार ने इसके लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की सहायता ली है। इसके बाद अब कोई भी सरकारी कर्मचारी सरलता से एसबीआई से लोन लेकर टाटा की गाड़ी खरीद सकता है, वो भी बिना कोई ब्याज दिए। 

पीआईबी ने किया वायरल मैसेज का फैक्ट चैक

भारत सरकार की एजेंसी पीआईबी ने वायरल मैसेज की सच्चाई बताने के लिए इसका फैक्ट चैक किया है। पीआईबी ने फैक्ट चैक की जानकारी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर शेयर की है। पीआईबी ने अपने ट्वीट में कहा, वायरल हो रहा है ये लेटर पूरी तरह से फर्जी है। सरकार का या एसबीआई का टाटा मोटर्स से ऐसा कोई करार नहीं हुआ है। इसके साथ ही पीआईबी ने इस तरह के मैसेजों से लोगों को सावधान रहने की सलाह दी है।

इस तरह के मैसेजों पर न करें विश्वास

अगर आपको भी इस तरह के कोई मैसेज मिलें तो उन पर बिल्कुल भी विश्वास न करें। साथ ही इस तरह की कोई भी संदिग्ध जानकारी आपके पास आए तो उसे पीआईबी के व्हाटसएप नंबर 8799711259 या फिर ऑफिशियल वेबसाइट socialmedia@pib.gov.in पर साझा जरुर करें। इसके अलावा ऐसे किसी भी वायरल मैसेज की सच्चाई जानने के लिए उसे पीआईबी की ऑफिशियल वेबसाइट पर विजिट कर एक बार क्रॉस वैरिफाइड जरुर करें।    

खबरें और भी हैं...