• Dainik Bhaskar Hindi
  • Fake News
  • The news of the government losing billions in the 5G spectrum auction is fake, shares are being shared with false claims

फैक्ट चैक: फर्जी है 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी में सरकार को अरबों का घाटा लगने की खबर, गलत दावे के साथ की जा रही शेयर

August 9th, 2022

डिजिटल डेस्क, भोपाल। सोशल मीडिया पर इन दिनों एक स्क्रीनशॉट वायरल है। यह एक न्यूजपेपर की खबर का स्क्रीनशॉट है। जिसके मुताबिक, 5जी नीलामी में सरकार को 2.8 लाख करोड़ का घाटा हुआ है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मों पर कई यूजर्स इस स्क्रीनशॉट को इसी दावे के साथ बड़ी तेजी से शेयर कर रहे हैं।

इस वायरल स्क्रीनशॉट को शेयर करते हुए एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 2.8 लाख करोड़ रुपये, बीजेपी का घोटाला!  भारतीय इतिहास का सबसे बड़ा घोटाला।  

पड़ताल - हमने इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहे इस स्क्रीनशॉट के बारे में जानकारी प्राप्त की। वायरल हो रही अखबार की कटिंग में उस अखबार का नाम टाइम्स बिजनेस लिखा है। हमने अखबार की वेबसाइट पर इस खबर को सर्च किया लेकिन हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली।

इसके अलावा हमारी सर्च में हमें आजतक की एक खबर मिली। जिसमें आजतक द्वारा इस खबर का फैक्ट चैक किया गया था। जिसके मुताबिक, वायरल खबर के नीचे उसको लिखने वाले रिपोर्टर का नाम लिखा है। पंकज डोवाल नाम के रिपोर्टर के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर चेक करने के बाद 2 अगस्त का एक ट्वीट मिला। इसमें टाइम्स ऑफ इंडिया के बिजनेस पेज की तस्वीर थी।

तस्वीर में दी हुई खबर के मुताबिक, 5जी ऑक्शन के नतीजे से जुड़ी खबरें भी थीं। इस पेज की हेडिंग में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी से रिकॉर्ड 1.5 लाख करोड़ की आमदनी होने की बात लिखी थी।

इसके अलावा समाचार पत्र के किसी भी हिस्से में इस नीलामी में घाटा होने की बात नहीं लिखी है। इस पड़ताल से जाहिर है कि एडिटिंग के जरिए लाखों करोड़ रुपए के घाटे की हेडिंग को इसमें जोड़ा गया है। न्यूजपेपर का यह स्क्रीनशॉट पूरी तरह फर्जी है। 

खबरें और भी हैं...