दैनिक भास्कर हिंदी: पति के शव के साथ बंगाल-झारखंड सीमा पर फंसी महिला

May 2nd, 2020

हाईलाइट

  • पति के शव के साथ बंगाल-झारखंड सीमा पर फंसी महिला

कोलकाता, 2 मई (आईएएनएस)। बंगाल-झारखंड सीमा पर शनिवार को अपने पति के शव के साथ एक महिला लगभग छह घंटे से अधिक समय तक फंसी रही। महिला शव लेकर दिल्ली से घर वापस जा रही थी।

पूर्वी मिदनापुर के हल्दिया की रहने वाली कल्पना गोयल अपने पति मानस कुमार गोयल के शव के साथ राष्ट्रीय राजधानी से एंबुलेंस में आ रही थी। उसे बंगाल-झारखंड सीमा पर रोक दिया गया, क्योंकि आसनसोल-दुगार्पुर आयुक्तालय के पुलिस कर्मियों ने उसे राज्य में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी।

सूत्रों ने कहा कि मानस कुमार गोयल का शुक्रवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में ब्रेन ट्यूमर से निधन हो गया और मृतक की पत्नी के पास सभी वैध मेडिकल दस्तावेज और शव ले जाने वाली एम्बुलेंस के जरूरी पास थे।

कल्पना गोयल ने दुगार्पुर एक्सप्रेसवे पर रोते हुए कहा, मेडिकल दस्तावेज में यह स्पष्ट रूप से लिखा गया है कि मानस कुमार गोयल का कोरोनावायरस जांच रिपोर्ट नेगेटिव आया है। मैं उनसे अनुरोध करती रही कि मुझे शव को घर ले जाने की अनुमति दें। मैं बहुत असहाय महसूस कर रही हूं।

अंत में, राज्य सचिवालय के अधिकारियों ने इस मामले में हस्तक्षेप किया और जिला पुलिस को निर्देश दिया कि वह शव को ले जाने दें।

आसनसोल-दुगार्पुर के पुलिस कमिश्नर सुकेश जैन ने आईएएनएस को बताया, हमने पहले ही एम्बुलेंस को शव के साथ हल्दिया जाने अनुमति दे दी है।