दैनिक भास्कर हिंदी: कोरोना इफेक्ट : दिल्ली पुलिस के अफसर-जवान अब नहीं जा पायेंगे घर, होटलों में हुआ रुकने का इंतजाम

April 15th, 2020

हाईलाइट

  • कोरोना इफेक्ट : दिल्ली पुलिस के अफसर-जवान अब नहीं जा पायेंगे घर, होटलों में हुआ रुकने का इंतजाम

नई दिल्ली, 15 अप्रैल (आईएएनएस)। कोरोना संक्रमण को रोकने की कवायद में जुटे दिल्ली पुलिस के अफसर और जवान अब घर नहीं जायेंगे। होटलों में इनके रुकने का इंतजाम कर दिया गया है। यह कदम एहतियातन उठाया गया है। ताकि कोरोना संक्रमित इलाकों में ड्यूटी देने वाले पुलिसकर्मियों के जरिये कहीं उनके परिवार और समाज में यह मुसीबत न फैल जाये। 15 जिलों में इस तरह के 50 से ज्यादा स्थान (होटल) तय कर दिये गये हैं।

इस आश्य के आदेश मंगलवार को ही दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त (सशस्त्र बल) ने जारी किये हैं। जारी आदेश के साथ उन 57 होटलों (स्थानों) की सूची भी है, जहां-जहां दिल्ली पुलिस अफसरों और जवानों के रुकने के एहतियाती इंतजाम किये गये हैं। अब तक पुलिसकर्मी ड्यूटी के बाद अपने-अपने घर चले जाते थे। जब दिल्ली पुलिस के 3 जवानों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव की आई, तब यह कदम उठाने को मजबूर होना पड़ा।

उल्लेखनीय है कि, दिल्ली पुलिस में हरियाणा, राजस्थान, यूपी आदि (राष्ट्रीय राजधानी के आसपास के क्षेत्रों से) में भी दिल्ली पुलिस के कुछ अफसर और बड़ी संख्या में जवान रहते हैं। यह सब लोग ड्यूटी, घरों से आकर ही दिल्ली में करते हैं। लॉकडाउन के दौरान सीमा पर कुछ स्थानों पर दिल्ली से दूसरे राज्य में ड्यूटी करके जाने पर उस राज्य की पुलिस ने भी प्रवेश पर आपत्ति दर्ज कराई थी। दूसरे राज्यों की पुलिस को अंदेशा था कि, कहीं कोई पुलिसकर्मी दिल्ली से संक्रमित होकर उनके राज्य में न पहुंच जाये।

साथ ही दिल्ली में ड्यूटी देकर दिल्ली में ही अपने परिवार के बीच जाने से भी इस तरह के संक्रमण की आशंकाएं बनी रहतीं थी।

पिछले दिनों यह बात भी सामने आयी थी कि, दिल्ली पुलिस की बैरकों में भी इतना समुचित स्थान नहीं है, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन की जा सके। लिहाजा दिल्ली पुलिस मुख्यालय ने ग्राउंड-जीरो पर ड्यूटी दे रहे सभी पुलिसकर्मियों के लॉकडाउन तक घर से बाहर ही ठहरने का इंतजाम किया। ताकि वे ड्यूटी देकर अलग रहें। घर परिवार और समाज के बाकी सभी वर्गों से भी बचे रहें। इससे भी कोरोना की चेन तोड़ने में बहुत मदद मिलने की उम्मीद है।

जारी आदेश में जिले के सभी डीसीपी को हिदायत दी गयी है कि, वे 24 घंटे में पुलिस मुख्यालय को रिपोर्ट भेजेंगे, कि कितने पुलिसकर्मी कब और किस स्थान पर ठहरे। इसके लिये बाकायदा इस आदेश के साथ एक प्रोफार्मा भी जारी किया गया है, जिसमें जिला डीसीपी को डिटेल भरकर भेजनी होगी।

खबरें और भी हैं...