comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

दिल्ली : कोरोना जांच से बच रहे यात्री, वॉलेंटियर्स कर रहे प्रेरित

November 18th, 2020 15:31 IST
 दिल्ली : कोरोना जांच से बच रहे यात्री, वॉलेंटियर्स कर रहे प्रेरित

हाईलाइट

  • दिल्ली : कोरोना जांच से बच रहे यात्री, वॉलेंटियर्स कर रहे प्रेरित

नई दिल्ली, 18 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर कोरोना जांच केंद्र बनाए गए हैं। आनंद विहार बस स्टैंड पर अगस्त महीने से कोरोना जांच केंद्र लगा हुआ है जहां यात्रियों की जांच की जाती है। जिसमें आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन टेस्ट शामिल है।

त्यौहारों की वजह से बस स्टैंड पर यात्रियों का आवागमन बढ़ गया है। जिसके लिए जांच की संख्या भी बढ़ाई गई है। ऐसे में यात्रियों को जांच के लिए कहा जा रहा है, लेकिन यात्री भागने या छुपने का प्रयास करते हैं।

आनंद विहार बस स्टैंड पर करीब 40 सिविल डिफेंस वॉलेंटियर तैनात किए गए हैं जो कि इन यात्रियो को जांच कराने के लिए कहते हैं। हालांकि यात्री दिल्ली से अपने गंतव्य तक जा रहे होते हैं या अन्य राज्यो में सफर कर रहे होते हैं। ऐसे में यात्री कोशिश करते है कि मौके से बच कर निकल लिया जाए।

सफर कर रहे यात्री द्वारा अलग अलग तरह के बहाने दिए जाते हैं लेकिन वॉलेंटियर बिना कुछ सुने उन्हें जांच कराने के लिए कहते है हालांकि कभी कभी इस दौरान यात्री नाराज भी हो जातें हैं। लेकिन कुछ यात्री चीजों को समझ कर अपनी जांच भी कराते हैं।

आनंद विहार बस स्टैंड पर सुबह करीब 10 बजे से शाम 6 बजे तक जांच होती है और रोजाना करीब 2 हजार जांच की जाती हैं। इसमें 600 आरटीपीसीर और बाकी एंटीजन जांच शामिल होती है।

जांच केंद्र में मौजूद डॉक्टर रोहिणी सिंह ने आईएएनएस को बताया, रैपिड एंटीजन और आरटीपीसीआर जांच करते हैं और अभी फिलहाल त्यौहारों की वजह से स्टेशन पर भीड़ हो गई है। जिसके लिए हमने भी जांच की संख्या में इजाफा किया है। हमारी प्राथमिकता होती है कि ज्यादा से ज्यादा जांच की जाए।

जांच के बाद यदि कोई व्यक्ति संक्रमित पाया जाता है तो उसे यहां से सीधे एम्बुलेंस में बिठा कर अक्षरधाम कोविड केयर सेंटर या छतरपुर कोविड केयर सेंटर ले जाते हैं। संक्रमित व्यक्ति के परिजनों को सूचित कर दिया जाता है।

हमारे वॉलंटियर्स द्वारा लोगो को समझा बुझाकर जांच कराने के लिए कहते हैं लेकिन कुछ यात्री बहाने बनाते हैं और बचने की कोशिश करते हैं।

हालांकि जिन लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आती है उन्हें एक पर्ची दी जाती है जिसपर उनके जांच में नेगेटिव होने की पुष्टि होती है और उसे फिर वहां से भेज दिया जाता है।

दिल्ली छठ पूजा में शामिल होने जा रहे रामप्रसाद को आनंद विहार बस स्टैंड पर जांच के लिए रोका गया। हालांकि शुरूआत में वह काफी घबराए लेकिन जांच होने के बाद उन्होंने आईएएनएस को बताया कि, छठ पूजा में शामिल होने जा रहे हैं। हमें यहां जांच के लिए रोका गया और अब हमें देर हो गई है।

मेरी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है और अब मैं सन्तुष्ट हूं शुरूआत में मुझे डर लगा लेकिन अब थोड़ा राहत महसूस कर रहा हूं।

छठ पूजा के लिए बिहार जा रहे एक अन्य यात्री की कोविड जांच कराई गई तो वो संक्रमित पाया गया। जिसके बाद उसे सीधे कोविड केयर सेंटर भेज दिया गया और उसके परिवार को भी सूचित कर दिया गया।

आनंद विहार बस स्टैंड पर सितंबर महीने में 47,985 रैपिड एंटीजन जांच की गई। जिसमें से संक्रमित करीब 150 निकले। वहीं अक्टूबर महीने में 26,794 जांच की गई, जिसमें 97 संक्रमित मरीज पाये गए। 1 नवंबर से 4 नवंबर तक 5,875 जांचे की गई, इसमें से 35 संक्रमित मरीज पाए गए।

साथ ही आरटीपीसीर जांच 7 नवंबर से 18 नवम्बर तक कुल 4,270 जांच हुई है। इसमें से अब तक करीब 90 संक्रमित मरीज निकल चुके हैं।

एमएसके-एसकेपी

कमेंट करें
KaJ7k
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।