दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग बढ़ी, सप्लाई है पर्याप्त

June 22nd, 2020

हाईलाइट

  • दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग बढ़ी, सप्लाई है पर्याप्त

नई दिल्ली, 22 जून (आईएएनएस)। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ ही ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग भी तेजी से बढ़ने लगी है। दिल्ली सरकार ने अपने सभी कोरोना अस्पतालों के बेड ऑक्सीजन युक्त बनाने का फैसला लिया है। ऑक्सीजन बेड की बढ़ी हुई मांग को देखते हुए दिल्ली सरकार ने यह आदेश जारी किया है। उधर ऑक्सीजन सिलेंडर कारोबारियों का कहना है मांग बढ़ी है लेकिन सप्लाई पर्याप्त है इसीलिए घबराने की जरूरत नहीं है।

केजरीवाल सरकार ने कोरोना का उपचार कर रहे सभी अस्पतालों के मेडिकल सुपरिटेंडेंट और निदेशकों को निर्देश दिए गए हैं कि जहां पाइप के जरिए ऑक्सीजन उपलब्ध नहीं है उन स्थानों पर ऑक्सीजन कॉन्सेन्ट्रेटर या ऑक्सीजन सिलेंडर के जरिए ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था की जाए।

दिल्ली सरकार के इस निर्णय के उपरांत खास तौर पर अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग में इजाफा हुआ है। इसके साथ ही कई होटल व धार्मिक स्थानों पर बनाए जा रहे कोरोना आइसोलेशन सेंटर के लिए भी अलग से ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था की जा रही है।

दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर के व्यवसायी रंजीत पाहवा ने कहा, यह सच है कि दिल्ली में बीते दिनों ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग में इजाफा हुआ है। ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग आने वाले दिनों में और भी अधिक बढ़ सकती है। इस बढ़ती मांग से घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि बाजार में पर्याप्त संख्या में ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद हैं।

ओखला स्थित ऑक्सीजन सिलेंडर के व्यवसायी अशोक कोहली ने कहा, ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग में लगातार तेजी आ रही है। केवल दिल्ली ही नहीं दिल्ली के बाहर से भी प्रतिदिन 300 से ज्यादा ऑक्सीजन के आर्डर आ रहे हैं। इस बढ़ती मांग के बावजूद ऑक्सीजन की किल्लत जैसी कोई समस्या नहीं है। अभी भी दिल्ली के बाजारों में मांग के मुकाबले 10 गुना अधिक सप्लाई मौजूद है।

दिल्ली सरकार द्वारा सोमवार को लिए गए एक अहम फैसले के मुताबिक दिल्ली के अंदर होम आइसोलेशन में रह रहे कोरोना रोगियों को दिल्ली सरकार ऑक्सी पल्स मीटर मुहैया करवाएगी। इस ऑक्सी पल्स मीटर से कोरोना रोगी अपने शरीर में ऑक्सीजन का स्तर माप सकेंगे। ऑक्सीजन की कमी होने पर दिल्ली सरकार कोरोना रोगियों को उनके घर पर ही ऑक्सीजन सिलेंडर मुहैया करवाएगी।

-- आईएएनएस