comScore

आम लोगों की तुलना में कोरोना का खतरा गर्भवती महिलाओं को है ज्‍यादा ! क्या कहते हैं विशेषज्ञ ?

आम लोगों की तुलना में कोरोना का खतरा गर्भवती महिलाओं को है ज्‍यादा ! क्या कहते हैं विशेषज्ञ ?

डिजिटल डेस्क,भोपाल। कोरोना ने दुनियाभर को तबाह कर दिया है। अर्थव्यवस्था चौपट हो चुकी है। मौत का ऐसा कहर बरपा हैं कि, लोग अपनी जान बचाने के लिए घरों में कैद हो रहे है। ऐसे में महिलाओं के मन में गर्भावस्था को लेकर सवाल उठते होंगे कि, क्या कोरोना का खतरा प्रग्नेंट औरतों को आम लोगों से ज्यादा हैं? तो हम आपको बता दें कि, जी हां। विशेषज्ञों का कहना है कि, कोरोना का खतरा गर्भवती महिलाओं में ज्‍यादा होता है क्‍योंकि इस समय इम्‍युनिटी का स्‍तर डाउन हो जाता है, इसलिए जरूरी है कि गर्भावस्‍था में महिलाओं को ज्‍यादा ख्‍याल रखा जाए।

Pregnancy: Early Signs, Trimesters, and Tips | Health.com

क्या सावधानियां रखनी चाहिए

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन यानि कि WHO के अनुसार,आम महिलाओं की तुलना में गर्भवती महिलाओं के वायरस से संक्रमित होने का जोखि‍म ज़्यादा होता है।संक्रमण के चलते प्री-मैच्योर बच्चे के जन्म का ख़तरा भी बढ़ जाता है।
  • प्रसूति रोग विशेषज्ञों के अनुसार, अगर आपके घर में कोई प्रेग्नेंट है तो तीन बातों का जरुर ख्याल रखे....सबसे पहले तो उन्‍हें सोशल आइसोलेट रखे। दूसरा उन्‍हें मास्‍क लगाना और तीसरा हाथ धोने जैसी सभी सावधानियां रखने को कहे। 
  • गर्भवती महिलाएं ऐसा पौष्‍ट‍िक आहार खाएं जिससे इम्‍युनिटी बढ़े और अगर कोरोना के कोई लक्षण दिखें तो जल्‍दी से जल्‍दी डॉक्‍टर को द‍िखाएं। कोरोना के दौरान गर्भवती महिलाएं कोविड हास्‍पिटल बनाए गए हैं, जहां प्रॉपर केयर होती है। महिलाएं वहां जाकर भी अपना इलाज करा सकती हैं। 
  • बता दें कि अभी तक वैक्सीन का गर्भवती महिलाओं पर ट्रायल अभी शुरू नहीं हुआ है, जिसकी वजह हैं एक साथ दो जिंदगी का खतरा।

Pregnancy and Coronavirus: COVID19 Precaution Tips for Pregnant Mothers

कमेंट करें
UuyOn