तमिलनाडु: 18.4 प्रतिशत सैंपल में ओमिक्रॉन का नए वर्जन बीए.2 पाया गया

March 20th, 2022

हाईलाइट

  • तमिलनाडु में दो वेरिएंट के बीच बहुत ज्यादा क्लीनिकल अंतर नहीं है

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। तमिलनाड में जनवरी से मार्च 2022 तक 18.4 प्रतिशत सैंपल में ओमिक्रॉन के नए वर्जन बीए.2 की पहचान की गई है। ये जानकारी राज्य के सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग ने दी।

दरअसल, यूके में कोरोना के बीए.2 सब-वेरिएंट के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। सैंपल पर जीनोमिक विश्लेषण में यह भी पाया गया कि 43 प्रतिशत सैंपल में सब-वेरिएंट बीए.1.1 की पहचान की गई, जबकि बीए.1 सब-वेरिएंट 37.3 प्रतिशत सैंपल में पाया गया।

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि राज्य में ओमिक्रॉन के मामले फैले हुए हैं। स्टेट पब्लिक हेल्थ लेबोरेटरी में होल जीनोम सीक्वेंसिंग (डब्ल्यूजीएस) ने दिखाया कि राज्य में अनुक्रमित 496 वेरिएंट में से 93 फीसदी ओमिक्रॉन वेरिएंट के हैं।

अध्ययन के अनुसार, राज्य में अनुक्रमित सैंपल में से 6.6 प्रतिशत डेल्टा वेरिएंट के हैं।

तमिलनाडु के स्वास्थ्य सचिव, जे. राधाकृष्णन ने आईएएनएस से कहा, संपूर्ण जीनोम सिक्वेसिग(डब्ल्यूजीएस) डेटा का काम लोगों में दहशत पैदा करना नहीं है। हालांकि यह बीए.2 वेरिएंट के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए है।

उन्होंने यह भी कहा कि तमिलनाडु में दो वेरिएंट के बीच बहुत ज्यादा क्लीनिकल अंतर नहीं है और लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि पिछले सप्ताह कई देशों में मामलों में वृद्धि दर्ज की गई है।

(आईएएनएस)