दैनिक भास्कर हिंदी: एक हाथ से हॉकी खेलता है MP के इटारसी का ये खिलाड़ी, टोक्यो ओलपिंक में अर्जेंटीना के खिलाफ इंडिया को दिलाई जीत

August 3rd, 2021

हाईलाइट

  • टोक्यो ओलपिंक में खेल रहे हैं इटारसी के विवेक सागर
  • टोक्यो ओलपिंक में अर्जेटीना के खिलाफ इंडिया को दिलाई जीत
  • एक हाथ से भी हॉकी खेल लेते हैं विवेक सागर

डिजिटल डेस्क, इटारसी। टोक्यो में चल रहे ओलंपिक के हॉकी मुकाबले में अर्जेंटीना को भारत ने हराने में कामयाबी हासिल की है। इस जीत में मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले के इटारसी के रहने वाले विवेक सागर की बड़ी भूमिका है। विवेक सागर ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें एक हाथ से हॉकी खेलने में महारत हासिल है। विवेक सागर के हॉकी खेलने से जुड़ा एक रोचक वाक्या है, जो कुछ साल पुराना है जब विवेक भोपाल के मेजर ध्यानचंद स्टेडियम में अभ्यास कर रहे थे तभी उनके बाएं कंधे में चोट लग गई थी, यह चोट बहुत गंभीर थी। तब मध्यप्रदेश हॉकी अकादमी के मुख्य कोच अशोक ध्यानचंद ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया और इलाज कराया।

बताते हैं कि विवेक सागर को लगी चोट के कारण उनका खेलना मुश्किल हो गया था और विवेक को भोपाल से वापस इटारसी लौटना पड़ा था, मगर वह शांत नहीं बैठा और मैदान में उतर कर लगातार अभ्यास करने लगा। डॉक्टरों ने सलाह दी थी कि विवेक बाएं हाथ पर ज्यादा जोर न दें इस बात से अशोक ध्यानचंद भी बाकी वाकिफ थे, इसलिए उन्होंने विवेक को दाएं हाथ से हॉकी खेलने के लिए कहा और उसका बाएं हाथ को बांध देते थे। इस तरह वह सिर्फ दाएं हाथ से हॉकी खेलता और लगातार अभ्यास करने के बाद उसे दाएं हाथ से हॉकी खेलने में महारत हासिल हो गई। अशोक ध्यानचंद का कहना है कि विवेक को चोट गंभीर थी और कुछ भी हो सकता था, मगर उसने हिम्मत नहीं हारी अपना इलाज कराया और वह फिर मैदान पर लौटा। विवेक जैसे बड़े जिगर वाले खिलाड़ी ही यह करिश्मा कर सकते हैं।

टोक्यो ओलिंपिक की टर्फ पर भारत ने डिफेंडिंग चैंपियन अर्जेंटीना के खिलाफ धमाकेदार जीत दर्ज की है। भारत ने अपनी आक्रामक हॉकी के दम पर रियो ओलिंपिक के गोल्ड मेडलिस्ट को 1 के मुकाबले 3 गोल से करारी शिकस्त दी। अर्जेंटीना को हराने के बाद भारत अपने ग्रुप की टॉप 2 टीमों में शामिल है। भारत की इस जीते के हीरो तीन खिलाड़ी थे। विवेक सागर, वरूण कुमार और हरमन। इस मुकाबले में डिफेंडिंग चैंपियन के खिलाफ 2 मिनट के अंदर 2 गोल दागकर भारत ने मुकाबला अपने नाम किया। भारत के लिए 58वें मिनट में विवेक ने गोल दागा, जबकि 59 मिनट में हरमन ने गोल दागकर। भारत की जीत पूरी तरह से पक्की कर दी।