comScore

संयुक्त राष्ट्र महासभा: चीन पर फिर बरसे ट्रंप, कोरोना संक्रमण के लिए ठहराया जिम्मेदार

संयुक्त राष्ट्र महासभा: चीन पर फिर बरसे ट्रंप, कोरोना संक्रमण के लिए ठहराया जिम्मेदार

हाईलाइट

  • ट्रंप ने कोरोना को फिर बताया चीनी वायरस
  • WHO पर भी जमकर बरसे अमेरिकी राष्ट्रपति

डिजिटल डेस्क, वॉशिंगटन। कोरोना वायरस को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन पर लगातार निशाना साध रहे हैं। मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGAयूएनजीए) के 75 साल पूरे होने के अवसर पर अपने संबोधन के दौरान उन्होंने एक बार फिर चीन पर जमकर हमला बोला। ट्रंप ने कहा कि चीन और विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना को लेकर बार-बार झूठ बोला और दुनिया को गुमराह किया। उन्होंने कहा कि हमें उस राष्ट्र को जवाबदेह ठहराना चाहिए जिसने इस वायरस को दुनिया भर में फैलाया है, ये देश चीन है। ट्रंप ने कहा कि वायरस के शुरुआती दिनों में चीन ने घरेलू यात्राएं तो बंद कर दीं, जबकि चीन से दुनियाभर के लिए उड़ाने जारी रहीं और सारी दुनिया में संक्रमण फैल गया।

ट्रंप ने कोरोना को फिर बताया चीनी वायरस
ट्रंप ने भाषण के दौरान एक बार फिर कोरोना वायरस को चीनी वायरस कहकर संबोधित किया। उन्होंने कहा कि द्वितीय विश्वयुद्ध के अंत और संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के 75 साल बाद हम एक बार फिर महान वैश्विक संघर्ष कर रहे हैं। हमने अदृश्य दुश्मन चीनी वायरस के खिलाफ भयंकर युद्ध छेड़ दिया है। 

WHO पर भी जमकर बरसे अमेरिकी राष्ट्रपति
अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि चीनी सरकार और उसके द्वारा नियंत्रित डब्ल्यूएचओ ने झूठ बोला कि एक से दूसरे इंसान में कोरोना के फैलने के कोई सबूत नहीं हैं। इसके बाद उन्होंने फिर सबको गुमराह करते हुए कहा कि बिना लक्षणों के लोगों से बीमारी नहीं फैलेगी। संयुक्त राष्ट्र को इन कामों के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराना चाहिए। उसने दुनिया को संकट में डाला है।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र महासभा का 75वां सत्र 15 सितंबर से शुरू हो गया है। महासभा के 75वें सत्र की आम चर्चा 22 सितंबर से शुरू हुई है, जो 29 सितंबर तक चलेगी। 

कमेंट करें
pMyT5