दैनिक भास्कर हिंदी: इंदौर की जल संरचनाओं की निगरानी अब ऑनलाइन

November 5th, 2019

हाईलाइट

  • इंदौर की जल संरचनाओं की निगरानी अब ऑनलाइन

इंदौर, 5 नवंबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश की व्यावसायिक नगरी इंदौर की जल संरचनाओं की निगरानी के लिए अभिनव प्रयोग किया गया है। यहां मोबाइल एप के जरिए जल संरचनाओं की निगरानी ऑनलाइन की जाएगी। इस मोबाइल एप को नाम दिया गया है, जलमित्र।

राज्य के अन्य हिस्सों की तरह इंदौर में भी जल संरचनाएं और खासकर तालाब अतिक्रमण का शिकार हो रहे हैं। इन्हें बचाए रखना हर किसी के लिए चुनौती बन गया है। इसी के चलते इंदौर में जल मित्र मोबाइल एप बनाया गया है। इस एप के जरिए इंदौर में स्थित झीलों और तालाबों की ऑनलाइन निगरानी संभव हो सकेगी।

इंदौर में जल संरक्षण के लिए बनाई गई झील एवं भू-जल संरक्षण सोसायटी की बैठक में संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी ने सोमवार को इस एप का लोकार्पण करते हुए बताया, जल मित्र मोबाइल एप फिलहाल एंड्राइड फोन पर है, जिस पर शहर में स्थित तालाबों की सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध है।

उन्होंने बताया, सभी तालाबों की जियो फेसिंग की जाएगी और इसमें तालाबों के रिचार्ज पॉइंट भी चिन्हित होंगे। इसका उद्देश्य इंदौर शहर की जल संरचनाओं को संरक्षित करना है। इस एप्लिकेशन के द्वारा जल संरचनाओं का सभी तरह का रिकॉर्ड संधारित किया जाएगा। आम जन भी इसे देख सकेंगे और इसके जरिए तालाबों में यदि अतिक्रमण और अन्य तरह की समस्याएं आती हैं तो इसे चिन्हित भी कर सकेंगे।

जिलाधिकारी लोकेश कुमार जाटव ने बताया, इंदौर के 22 तालाबों में से 12 का सीमांकन हो चुका है। सभी तालाबों में स्थायी प्रकृति के मुनारे लगाए जाएंगे।

बताया गया है कि इंदौर का सिरपुर तालाब अतिक्रमण की चपेट में है। संभागायुक्त त्रिपाठी के मुताबिक, तालाब पर होने वाले अतिक्रमण को सख्ती से रोका जाएगा।