comScore

मध्यप्रदेश के अधिकांश जिलों में 24 घंटे तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

July 17th, 2018 14:15 IST
मध्यप्रदेश के अधिकांश जिलों में 24 घंटे तक भारी बारिश का अलर्ट जारी

हाईलाइट

  • देशभर के कई हिस्सों में कुछ दिनों से भारी बारिश का कहर।
  • भोपाल, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, सागर और आसपास के इलाकों में अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की चेतावनी।
  • राजधानी भोपाल में हो रही लगातार बारिश ने मौसम विभाग की भविष्यवाणी को सही साबित कर दिया।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देशभर के कई हिस्सों में कुछ दिनों से भारी बारिश का कहर देखने को मिल रहा है। इसी कड़ी में अब मध्यप्रदेश के कई हिस्सों में भी मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। मध्यप्रदेश के भोपाल, इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद, सागर और आसपास के इलाकों में अगले 24 घंटे तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। वहीं मंगलवार सुबह से राजधानी भोपाल में हो रही लगातार बारिश ने मौसम विभाग की भविष्यवाणी को सही साबित कर दिया है। 

मप्र में बारिश, कई नदियां उफान पर
मध्यप्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश देखी जा रही है। छिंदवाड़ा, होशंगाबाद, सागर, सीहोर जैसी जगहों पर भी बारिश का असर अभी से दिखाई दे रहा है। छिंदवाड़ा में भारी बारिश की वजह से रेलवे स्टेशन में पानी घुस गया और नागपुर नेशनल हाइवे बंद हो गया। वहीं पांढुर्णा में लोंडी और जाम नदी में पानी उफान पर आ गया है। होशंगाबाद में हो रही लगातार बारिश के चलते आदमगढ़ नाला उफान पर आ गया है और पवारखेड़ा गांव में रास्ते पर पानी भर गया है जिससे मार्ग बंद हो गया। सागर के रहली में पांच मील-रानगिर मार्ग पर सुकाड़ नाला की पुलिया में एक युवती बह गई। युवती का शव कुछ ही दूर पेड़ में फंसा मिला। बात करें सीहोर की तो यहां ढाई घंटे में 2 इंच बारिश दर्ज की गई है। सीहोर में सोमवार शाम 4 बजे से ही तेज बारिश शुरू हो गई थी। इससे प्रमुख मार्गों पर पानी भर गया। 

Image result for heavy rainfall in gujrat


गुजरात में भारी बारिश से मची तबाही
वहीं गुजरात में कई दिनों से लगातार भारी बारिश हो रही है। जिससे कई इलाकों में तबाही मची है। नदी नाले उफान पर हैं जो कई हादसों को दावत दे रहे हैं। सोमवार को सोमनाथ जिले के गिर गढड़ा में 14 इंच से ज्यादा बारिश हुई। अचानक ट्रैक पर पानी आ जाने से एक मीटर गेज ट्रेन फंस गई। इसमें से 95 यात्रियों को निकालने के लिए एनडीआरएफ की टीम को उतारना पड़ा। गुजरात के नवसारी, अमरेली, जूनागढ़ और सूरत में 500 से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया। उना, भावनगर और वलसाड में भी तेज बारिश का दौर जारी है। रेल सेवा पर भी इसका असर पड़ा है। लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

कमेंट करें
eyp3M