comScore

धर्म पर टिप्पणी, पुलिस इंस्पेक्टर ने पूछा- क्या मुसलमान होना गुनाह है?

July 23rd, 2018 13:17 IST

हाईलाइट

  • रांची में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के स्थानीय नेता धीरज की हत्या हो गई।
  • मामले में कुछ लोगों ने थाना प्रभारी के सामने धर्म को लेकर अपमानजनक टिप्पणी की।
  • थाना प्रभारी आबिद खान को गुस्सा आ गया और उन्होंने लोगों से पूछ लिया, 'क्या मुसलमान होना गुनाह है?'

डिजिटल डेस्क, रांची। अपने या फिर धर्म पर अपमानजनक टिप्पणी कोई भी इंसान शायद ही बर्दाश्त करे? ऐसा ही एक मामला झारखंड की राजधानी रांची से सामने आ रहा है। यहां कुछ लोगों द्वारा धर्म को लेकर की गई अपमानजनक टिप्पणी से एक थाना प्रभारी (पुलिस इंस्पेक्टर) आहत हो गए। इस टिप्पणी के बाद थाना प्रभारी आबिद खान को गुस्सा आ गया और उन्होंने लोगों से पूछ लिया, 'क्या मुसलमान होना गुनाह है?' ऐसे सवाल वाला उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।


छेड़खानी का विरोध करने पर हुई थी हत्या
जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के स्थानीय नेता धीरज की हत्या हो गई थी। धीरज की हत्या का आरोप मुस्लिम युवकों पर है। मामले में पुलिस ने जांच करते हुए हत्या के सभी आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है। इसी मामले में कुछ लोगों ने थाना प्रभारी आबिद खान के धर्म को लेकर अपमानजनक टिप्पणी की जिसके बाद आबिद खान को गुस्सा आ गया। बता दें कि वायरल वीडियो में नज़र आ रहे आबिद खान डोरंडा थाने के प्रभारी हैं।

क्या था पूरा मामला?
दरअसल धीरज की हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए सभी मुस्लिम आरोपियों पर लड़कियों से छेड़खानी के आरोप हैं। घटना के दिन भी कुछ ऐसा ही हुआ था। मुख्य आरोपी शाहबाज साथियों के साथ लड़कियों से छेड़खानी कर रहा था। छेड़खानी रोकने को लेकर धीरज और आरोपी शाहबाज में लड़ाई भी हुई थी। इसी विवाद के चलते आरोपियों ने धीरज को मौत के घाट उतार दिया।

धीरज की हत्या के खिलाफ सभी पार्टी के नेता एकजुट होकर थाना प्रभारी के सामने विरोध प्रदर्शन करने लगे थे। विरोध के दौरान ही कुछ लोगों ने थाना प्रभारी आबिद खान पर अपमानजनक टिप्पणी कर दी। धर्म को लेकर की गई अपमानजनक टिप्पणी के बाद थाना प्रभारी का पारा चढ़ गया और वो बौखला उठे थे। इसी दौरान किसी ने हंगामे का वीडियो बना लिया, जो अब काफी वायरल भी हो रहा है।

कमेंट करें
WUyaR