दैनिक भास्कर हिंदी: केरल: 21 साल की आर्या बनेंगी देश की सबसे युवा मेयर, संभालेंगी तिरुअनंतपुरम का चार्ज

December 26th, 2020

हाईलाइट

  • कई कैंडिडेट्स में से हुआ सिलेक्शन
  • B.SC सेकंड ईयर में कर रहीं हैं पढ़ाई

डिजिटल डेस्क, तिरुअनंतपुरम। केरल निकाय चुनाव में तिरुअनंतपुरम से जीतने वाली CPI(M) की आर्या राजेंद्रन को पार्टी ने तिरुअनंतपुरम का मेयर चुना है। 21 साल की आर्या पद संभालने के साथ ही देश की सबसे युवा मेयर बन जाएंगी। अभी उनकी B.SC की पढ़ाई भी नहीं पूरी हुई है। वे सेकंड ईयर में हैं।

आर्या राजेंद्रन तिरुवनंतपुरम नगर निगम चुनाव में मुडावंमुगल वार्ड से काउंसिलर चुनी गई हैं। उन्हें मेयर पद पर नियुक्त करने का फैसला सीपीएम के जिला पैनल ने लिया है। सीपीएम ने इस बार केरल नगर निकाय चुनाव में जितने भी उम्मीदवार उतारे थे उनमें भी वह सबसे कम उम्र की प्रत्याशी थीं। उन्होंने UDF की श्रीकला को 2872 वोटों से हराया।

CPI(M) का कहना है कि हम अपनी लीडरशिप में पढ़ी-लिखी महिलाओं को और ज्यादा भागीदारी देना चाहते हैं। 100 सदस्यों वाली तिरुअनंतपुरम नगर पालिका के चुनाव में CPI(M) ने 51 सीटें जीतीं है। भाजपा यहां मुख्य विपक्षी दल है। उसके खाते में 35 सीटें गई हैं। कांग्रेस की अगुआई वाली UDF को इन चुनावों में 10 सीटें मिली हैं। 4 निर्दलीय जीते हैं।

लोगों ने मुझे इसलिए चुना, क्योंकि मैं स्टूडेंट हूं- आर्या
आर्या ने कहा कि यह पार्टी का फैसला है और मैं इसका पालन करूंगी। चुनाव के दौरान लोगों ने मुझे प्राथमिकता दी, क्योंकि मैं एक स्टूडेंट हूं। लोग चाहते हैं कि उनका प्रतिनिधि पढ़ा-लिखा हो। मैं अपनी पढ़ाई पूरी करूंगी और मेयर के तौर पर अपनी जिम्मेदारियां भी निभाऊंगी। आर्या के पिता इलेक्ट्रिशियन हैं और उनकी मां LIC एजेंट हैं।

उल्लेखनीय है कि मेयर पद की दौड़ में पहले सीपीएम की वरिष्ठ नेता जमीला श्रीधरन के साथ दो अन्य नेता भी शामिल थे, लेकिन पार्टी ने अनुभव के स्थान पर युवा नेता को वरीयता दी है। बता दें कि 100 सदस्यीय कॉरपोरेशन परिषद में सत्ताधारी डेमोक्रेटिक फंड की 52 सीटे हैं और विपक्षी भाजपा के पास 25 सीटे हैं। 


 

खबरें और भी हैं...