दैनिक भास्कर हिंदी: कर्नाटक के खेतों में चील-कौए भगा रहे पीएम मोदी और अमित शाह

July 17th, 2018

हाईलाइट

  • किसानों ने पीएम मोदी और अमित शाह के कट-आउट्स को अपने खेतों में लगा रखे हैं।
  • ये सभी कट-आउट्स विधानसभा चुनाव में यूज हुए थे, जिन्हें किसानों ने फसल को पशु-पक्षियों से बचाने के लिए अपने खेतों में लगा रखा है।
  • मामला कर्नाटक में चिकमगलुरु के तारिकेर तालुके का है।

डिजिटल डेस्क, चिकमगलुरु। कर्नाटक के खेतों ने इन दिनों पीएम नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी (BJP) अध्यक्ष अमित शाह चील-कौआ भगाने का काम कर रहे हैं। दरअसल कर्नाटक में चिकमगलुरु के तारिकेर तालुके में किसानों ने पीएम मोदी और अमित शाह के कट-आउट्स को अपने खेतों में लगा रखे हैं। ये सभी कट-आउट्स विधानसभा चुनाव में यूज हुए थे, जिन्हें अब यहां के किसानों ने फसल को पशु-पक्षियों से बचाने के लिए अपने खेतों में लगा रखा है।

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 में BJP सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, लेकिन वो बहुमत से काफी कम थी। इसके बाद कांग्रेस पार्टी ने जेडीएस के साथ मिलकर राज्य में गठबंधन की सरकार बनाई और एचडी कुमारस्वामी मुख्यमंत्री बने। वहीं चिकमगलुरु की पांचों विधानसभा सीटों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह ने यहां जमकर प्रचार भी किया था। जिसके परिणामस्वरूप सभी सीटों पर BJP को जीत मिली थी।

 


चिकमगलुरु जिले में हुई मोदी-शाह की रैलियों के लिए दोनों दिग्गजों के ढेरों कट-आउट्स भी लगाए गए थे। अब दो महीने बाद इन कट-आउट्स का इस्तेमाल 'बिजूका' के रूप में पक्षी और जानवरों को भगाने के लिए किया जा रहा है। किसी भी नेता या पार्टी के कट-आउट्स से कोई परहेज नहीं किया जा रहा है। हालांकि, जब इस मामले में गांव के प्रधान टी एन शिवाकिरन से पूछा गया तो उन्होंने इससे इनकार कर दिया। बता दें कि इस बार राज्य में अच्छे मॉनसून के चलते बुवाई समय से हो गई है।

गौरतलब है कि इससे पहले आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जिले के एक किसान ने अपने खेतों से बदकिस्मती को दूर रखने के लिए सनी लियोनी की तस्वीरों को लगाया था। वहीं तेलंगाना में एक किसान ने अपनी फसलों को बचाने के लिए अपनी पसंदीदा ऐक्ट्रेस काजल अग्रवाल के कटआउट लगाए थे।