comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

महाराष्ट्र में बोले PM मोदी- इस बार तो मुझे लगता है कि पहले के सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे

महाराष्ट्र में बोले PM मोदी- इस बार तो मुझे लगता है कि पहले के सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के रण में पीएम मोदी का चुनाव प्रचार
  • परली में जनसभा को किया संबोधित
  • सतारा और पुणे में जनसभा को करेंगे संबोधित

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए आज (गुरुवार) प्रचार करने परली पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जनसभा संबोधित कर रहे हैं। पीएम मोदी ने अपने संबोधन ने कहा,  ये वीर सावरकर के ही संस्कार हैं, जो राष्ट्रवाद को हमने राष्ट्र निर्माण के मूल में रखा है। वहीं दूसरी तरफ कौन हैं, जरा एक-एक चेहरा याद कीजिए। ये वो लोग हैं जो वीर सावरकर को आए दिन गालियां देते हैं, उनका अपमान करते हैं। इतिहास में जब भी 370 की चर्चा होगी तो देशहित में किए निर्णय को विरोध करने वालों का, उनके बयानों का जिक्र जरूर होगा। देश की एकता-अखंडता में कांग्रेस को हिन्दू मुसलमान नजर आता है। कांग्रेस कहती है कि कश्मीर का मुद्दा भारत का अंदरूनी मामला नहीं है।  कांग्रेस के एक और नेता ने कहा कि ये देश को बर्बाद करने वाला फैसला है। क्या ऐसे बयान देने वालों को आप माफ करेंगे? एक और नेता ने कहा कि इस फैसले से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया है। ये हमारे विरोधियों की भाषा है। 370 का विरोध हमारी पार्टी का जन्म हुआ उस दिन से करते आ रहे हैं। हम राजनीति के लिए नहीं करते, हम देशनीति के लिए करते हैं।

पीएम मोदी ने कहा, अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले पर एक ने कहा था कि ये किसी की हत्या करने जैसा है। एक नेता ने कहा कि ये भारत की राजनीति का काला दिन है। एक नेता ने कहा कि ये लोकतंत्र के खिलाफ है, एक और बड़े नेता ने कहा कि भारत में लोकतंत्र की खत्म हो गयाआज अगर महायुति के पक्ष में माहौल है तो इसके पीछे बीते पांच वर्ष की हमारी कार्यशक्ति है। वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं की स्वार्थशक्ति है। कांग्रेस के अधिकतर नेता आज आपस में एक दूसरे से निपटने में लगे हैं। इनकी युती में जो युवा नेता थे वो भी साथ छोड़ रहे हैं और वरिष्ठ नेता आज हताश-निराश हैं। विरोधी दल के नेताओं को को चिंता हो रही है कि भाजपा के कार्यकर्ता इतनी मेहनत क्यों कर रहे हैं? मैं आज बीड से उनको बता दूं कि, भाजपा के पास लगन से कार्य करनेवाले कार्यकर्ता हैं, तभी वो दिलों को जीतते हैं और दलों को जिताते हैं

पीएम मोदी ने कहा, आज एकसाथ मुझे दो-दो भगवानों का दर्शन करने का सौभाग्य मिला है। यहां पहुंचते ही पहले बाबा वैद्यनाथ के चरणों में चला गया, उसके बाद इस विशाल जनता जनार्दन का दर्शन करने का मौका मिला, जनता भी भगवान का रूप होती है। बाबा भोलेनाथ का आशीर्वाद हम सभी पर बना हुआ है। सोमनाथ से लेकर वैद्यनाथ तक, काशी विश्वनाथ से लेकर केदारनाथ तक, सम्पूर्ण विश्व पर महादेव की कृपा बनी हुई है। बाबा वैद्यनाथ का आशीर्वाद पूरे बीड पर रहा है और बीड की जनता का आशीर्वाद और विश्वास हमेशा भाजपा पर रहा है। आपने बार-बार, हर बार यहां कमल खिलाया है। इस बार तो मुझे लगता है कि पहले के सारे रिकॉर्ड टूट जाएंगे। विरोधी दल के नेताओं को को चिंता हो रही है कि भाजपा के कार्यकर्ता इतनी मेहनत क्यों कर रहे हैं? मैं आज बीड से उनको बता दूं कि, भाजपा के पास लगन से कार्य करनेवाले कार्यकर्ता हैं, तभी वो दिलों को जीतते हैं और दलों को जिताते हैं। 

पीएम मोदी ने कहा, बीते पांच वर्षों में यहां स्वयं सहायता समूहों की संख्या में कई गुना वृद्धि हुई है। महाराष्ट्र भाजपा ने ये संकल्प लिया है कि आने वाले पांच वर्षों में 1 करोड़ और बहनों को इस बचत समूह के आंदोलन से जोड़ा जाएगा। आज सड़क, रेल, पुल, अस्पताल, जैसी आधुनिक सुविधाएं तेजी से बढ़ रही हैं और दूर दराज के क्षेत्रों में भी मिल रही हैं। अकेले मराठवाड़ में ही करीब 50,000 करोड़ रुपये के रास्ते बन रहे हैं। आप सभी इस बात के गवाह हैं कि पहले किस तरह से हर जगह बिचौलियों का राज होता था। गरीब के राशन और अपकी कमाई तक में कट लगता था। हमने बिचौलियों के खेल को पूरी तरह से बंद कर दिया है। आज करीब 400 योजनाओं का पैसा सीधे लाभार्थियों के खाते में पहुंच रहा है। सिंचाई से लेकर कमाई की चिंता, महायुती की सरकार ने की है। सूखे के कारण जब आपदा आई तो सरकार ने तत्काल मदद पहुंचाई। आपदा राहत हो या फसल बीमा, हर तरह की मदद पहुंचाई है। अब किसानों के खाते में सीधे सहायता राशि दी जा रही है।

पीएम मोदी ने कहा, महाराष्ट्र भाजपा ने 2022 तक हर घर जल पहुंचाने का संकल्प लिया है। ये संकल्प ऐसे ही नहीं लिया गया, इसके पीछे महाराष्ट्र सरकार के बीते पांच वर्षों का ट्रैक रिकॉर्ड भी है। केंद्र सरकार ने जल जीवन मिशन शुरू किया है। इसके तहत आने वाले पांच वर्षों में सिर्फ पानी के लिए साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। पानी के लिए इतना गंभीर प्रयास भारत में तो क्या विश्व के इतिहस में भी नहीं हुआ होगा।

बता दें कि महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनावी बयार बह रही है। दोनों राज्यों में 21 अक्टूबर तो वोटिंग होनी है। इसके मद्देनजर बुधवार को पीएम मोदी महाराष्ट्र के अकोला पहुंचे। वहां उन्होंने रैली को संबोधित किया। इसके बाद वह परतुर पहुंचे, जहां उन्होंने कांग्रेस पर बड़ा हमला किया। आज भी पीएम मोदी कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों को घेरते नजर आएंगे। 

कमेंट करें
9rHVL
कमेंट पढ़े
Suresh Giri October 17th, 2019 12:12 IST

Bharat mata ki jay

NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।