दैनिक भास्कर हिंदी: दलितों के मुद्दों पर अमित शाह से मिले पासवान, SC/ST एक्ट पर की अध्यादेश लाने की मांग

June 4th, 2018

हाईलाइट

  • लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दलितों के मुद्दों पर रविवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की।
  • इस मुलाकात में उन्होंने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति एक्ट में बदलाव और दलितों को पदोन्नति में आरक्षण की रुकावटों पर चिंता जाहिर की।
  • पासवान ने दोनों मुद्दों को हल करने के लिए बीजेपी अध्यक्ष से संसद में अध्यादेश लाने की मांग की।
  • इसके साथ ही पासवान ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने के संबंध में भी अपनी बात रखी।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दलितों के मुद्दों पर रविवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति एक्ट में बदलाव और दलितों को पदोन्नति में आरक्षण की रुकावटों पर चिंता जाहिर की। पासवान ने दोनों मुद्दों को हल करने के लिए बीजेपी अध्यक्ष से संसद में अध्यादेश लाने की मांग की। इसके साथ ही पासवान ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने के संबंध में भी अपनी बात रखी।
 


SC/ST एक्ट पर अध्यादेश लाए सरकार


पासवान ने अमित शाह से एससी/एसटी (अत्याचार रोकथाम) कानून के मूल कड़े प्रावधानों को फिर से बहाल करने के लिए अध्यादेश लाने की मांग की। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने एससी/एसटी एक्ट के तहत गिरफ्तारी समेत कुछ प्रावधानों में बदलाव कर दिए थे। इसके बाद दलित समाज ने 2 अप्रैल को भारत बंद भी बुलाया था। इस दौरान कई राज्यों में हिंसक घटनाएं हुई थीं। केंद्र ने इसके बाद एससी/एसटी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका भी दायर की थी।




 

पदोन्नति में आरक्षण की रुकावटें दूर करें


केंद्रीय मंत्री ने अमित शाह से पदोन्नति में आरक्षण की रूकावटें दूर करने पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को उन प्रावधानों को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट जाना चाहिये जो सरकारी नौकरियों में SC/ST कर्मचारियों को पदोन्नति में आरक्षण देने की राह में बाधा डालते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अगर जरूरी हो तो सरकार को इसके लिए भी अध्यादेश लाना चाहिए।



बिहार को दिया जाए विशेष राज्य का दर्जा


लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान ने  बिहार को विशेष राज्य देने संबंधी मामले पर भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि बिहार देश के गरीब राज्यों में से एक हैं। ऐसे में यह बिहारवासियों का हक हैं कि उनके राज्य को विशेष राज्य का दर्जा मिले। गौरतलब है कि बिहार के लगभग सभी राजनीतिक दल विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग हमेशा से करते रहे हैं।