दैनिक भास्कर हिंदी: शेल्टर होम: कुर्सी में बांधकर बच्चियों से करते थे रेप, CBI चार्जशीट में खुलासा

January 6th, 2019

हाईलाइट

  • बालिका गृह में हुए उत्पीड़न के मामले में नया खुलासा
  • सीबीआई की चार्जशीट में ब्रजेश ठाकुर पर संगीन आरोप
  • शेल्टर होम में रोज सजती थी ब्रजेश ठाकुर की महफिल

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में हुए उत्पीड़न के मामले में नया खुलासा हुआ है। विशेष पॉस्को कोर्ट में सीबीआई (सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन) की तरफ से दायर की गई चार्जशीट में ब्रजेश ठाकुर पर संगीन आरोप लगाए गए हैं। 

चार्जशीट के मुताबिक ब्लू फिल्म दिखाकर छोटी-छोटी बच्चियों से दुष्कर्म किया जाता था। विरोध करने वाली लड़कियों को नशे का इंजेक्शन दिया जाता था और इसके बाद उन्हें कुर्सी में बांधकर हवस का शिकार बनाया जाता था। सीबीआई की चार्जशीट में लिखा है कि शेल्टर होम में ब्रजेश ठाकुर की महफिल रोज सजती थी। 

शेल्टर होम के कर्मचारियों और ब्रजेश के अलावा सीडब्लूसी (बाल कल्याण समिति) के सदस्य भी रात में बालिका गृह आते थे। बच्चियों को छोटे कपड़े पहनाकर अश्लील भोजपुरी गानों पर डांस कराया जाता था, ऐसा न करने पर मारपीट भी की जाती थी। लड़कियों को नशे की दवा देकर सुलाने के बाद उनसे रेप किया जाता था। 

बता दें कि सीबीआई ने 19 दिसंबर को इस मामले में कोर्ट के सामने चार्जशीट दायर की थी। चार्जशीट में कुल 102 लोगों की गवाही दर्ज है, जिसमें 33 बच्चियां शामिल हैं। पहचान उजागर होने की संभावना के चलते चार्जशीट में किशोरियों का नाम दर्ज नहीं किया गया है। उनके नाम और केस स्टडी को अलग से बंद लिफाफे में कोर्ट को दिए गए हैं। सीबीआई द्वारा दायर की गई चार्जशीट भी पुलिस के पैटर्न पर ही है।

खबरें और भी हैं...