दैनिक भास्कर हिंदी: वैक्सीनेशन: दिल्लीवासियों को फ्री में मिल सकती है कोरोना की वैक्सीन, बजट सत्र में केजरीवाल सरकार कर सकती है ऐलान

March 7th, 2021

हाईलाइट

  • केजरीवाल ने जनवरी 2021 में दिल्ली वालों को मुफ्त वैक्सीन देने की तरफ इशारा भी किया था
  • देश में निजी अस्पतालों में 250 रुपए और सरकारी अस्पतालों में मुफ्त वैक्सीन लगाई जा रही है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा का बजट सत्र 8 मार्च से शुरू होगा। इससे पहले सूत्रों से खबर मिली है कि केजरीवाल सरकार दिल्लीवासियों को कोरोना की वैक्सीन फ्री उपलब्ध करा सकती है। दरअसल, केजरीवाल सरकार आम लोगों को सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन उपलब्ध कराने की तैयारी कर रही है। इसके लिए बजट में मुफ्त वैक्सीन का प्रावधान आ सकता है।

सूत्रों का कहना है कि अगले फेज में आम लोगों के वैक्सीनेशन का नंबर आएगा, तो दिल्ली सरकार उन्हें सरकारी अस्पतालों में मुफ्त वैक्सीन देने का प्रावधान इस बजट में ला सकती है। दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने जनवरी 2021 में दिल्ली वालों को मुफ्त वैक्सीन देने की तरफ इशारा भी किया था।

खबर में खास

  • इस समय देशभर में 60 साल से अधिक उम्र के अलावा गंभीर बीमारियों से ग्रसित 45 साल से अधिक उम्र के लोगों काे वैक्सीन दी जा रही है।
  • प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपए और सरकारी अस्पतालों में मुफ्त वैक्सीन लगाई जा रही है।
  • देश में कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर बढ़ते नजर आ रहे हैं।
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार बीते 24 घंटों में कोरोना के 18,711 नए मामले सामने आए हैं।
  • वहीं 100 लोगों की मौत हुई है और 14,392 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं। 
  • देश में अब तक कोरोना के कुल 1,12,10,799 मामले सामने आए हैं। 
  • ठीक होने वालों की संख्या 1,08,68,520 हो गई है।
  • कोरोना से देश में मौत के आंकड़ा 1,57,756 पहुंच गया है।
  • देश में वर्तमान में 1,84,523 एक्टिव केस हैं।
  • 2,09,22,344 लोगों को वैक्सीन की डोज दी गई है।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले, कोरोना कंट्रोल में
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि नवंबर में संक्रमण दर 16% थी, जबकि पिछले 2 महीने से संक्रमण दर 1% से नीचे दर्ज हो रही है। आज 90 हजार से ज्यादा कोरोना टेस्ट दिल्ली में हुए हैं। संक्रमण दर 0.3% दर्ज हुई है। संक्रमण दर के ऊपर नीचे जाने से कोई फर्क नहीं पड़ता। WHO ने कहा था कि संक्रमण दर 5 प्रतिशत से नीचे रहनी चाहिए, जबकि दिल्ली में संक्रमण दर पिछले दो महीने से 1 प्रतिशत से कम है।

 

खबरें और भी हैं...