दैनिक भास्कर हिंदी: राऊत ने पूछा - राज्यपाल से मिलकर खाली हाथ क्यों लौटी बीजेपी, थोपना चाहते हैं राष्ट्रपति शासन

November 8th, 2019

हाईलाइट

  • बीजेपी नेताओं के राज्यपाल से मुलाकात पर संजय राऊत ने जमकर निशाना साधा
  • राऊत ने पूछा कि भाजपा नेता राज्यपाल से मिलकर खाली हाथ क्यों लौटे हैं?

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बीजेपी नेताओं के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात पर शिवसेना के सांसद संजय राऊत ने जमकर निशाना साधा। राऊत ने पूछा कि भाजपा नेता राज्यपाल से मिलकर खाली हाथ क्यों लौटे हैं?

गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में राऊत ने कहा कि भाजपा के पास अगर बहुमत नहीं है तो पार्टी सत्ता की हवस छोड़कर यह स्पष्ट कर दें कि हम सरकार नहीं बना सकते हैं। भाजपा सरकार बनाने के लिए दावा पेश नहीं कर रही है इसका मतलब है कि भाजपा बहुमत नहीं जुटा पा रही है।

राऊत ने आरोप लगाया कि भाजपा राष्ट्रपति शासन लागू करने की परिस्थिति पैदा कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा महाराष्ट्र पर राष्ट्रपति शासन जबरदस्ती थोंपना चाहती है। यह महाराष्ट्र के खिलाफ होगा। भाजपा छत्रपति शिवाजी महाराज और संविधान के निर्माता डॉ. बाबासाहब आंबेडकर के खिलाफ जा रही है।

राऊत ने कहा कि भाजपा पहले घोषित करे कि हम सरकार बनाने में असमर्थ हैं। इसके बाद ही शिवसेना अगला कदम उठाएगी। राऊत ने कहा कि भाजपा पेंच पैदा करना चाहती है कि किसी भी हाल में किसी दल की सरकार राज्य में नहीं बन पाए। यह संविधान के खिलाफ है। लेकिन भाजपा यह जान लें कि यह खेल पुराना हो चुका है। हम संविधान के दायरे में रहकर शिवसेना का मुख्यमंत्री बनाएंगे।

राऊत ने कहा कि प्रदेश में शिवसेना का मुख्यमंत्री बनने का फार्मूला विधानसभा के सदन के पटल पर भी पता चल जाएगा। उन्होंने दावा किया कि शिवसेना के पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त विधायकों का समर्थन है। 

खबरें और भी हैं...