comScore

बिहार: 100 बच्चों की मौत पर चल रही थी मीटिंग, स्वास्थ्य मंत्री ने पूछा क्रिकेट स्कोर

बिहार: 100 बच्चों की मौत पर चल रही थी मीटिंग, स्वास्थ्य मंत्री ने पूछा क्रिकेट स्कोर

हाईलाइट

  • चमकी बुखार पर रखी गई थी मीटिंग
  • बैठक में मौजूद थे केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन
  • अब तक हो चुकी है 100 से ज्यादा मौतें

डिजिटल डेस्क, पटना। बिहार के मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार (AES) से 100 बच्चों की मौत पर पूरा देश गुस्से में है, लेकिन नेताओं को इससे कोई फर्क पड़ता दिखाई नहीं दे रहा है। एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम से लगातार हो रही मौतों पर सोमवार को एक मीटिंग रखी गई थी, जिसमें राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय क्रिकेट का स्कोर पूछते नजर आए।

गौर करने वाली बात यह है कि इस मीटिंग में केंद्रीय स्वास्थय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन भी मौजूद थे। मीटिंग का वीडियो भी मौजूद है, जिसमें मंगल पांडेय पूछते हैं कि स्कोर क्या हो रहा है, सामने की तरफ बैठा कोई शख्स उन्हें बताता है कि चार विकेट हो चुके हैं। स्वास्थ्य मंत्री के इस व्यवहार की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना की जा रही है, लोग कर रहे हैं कि पांडेय के अंदर की संवेदनाएं खत्म हो चुकी हैं।


मीटिंग में सोने वाले चौबे बोले, चिंतन कर रहा था
केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने मीटिंग में सोने पर सफाई दी है। चौबे ने कहा कि चमकी बुखार पर की जा रही उच्च स्तरीय बैठक में वो सो नहीं रहे थे, बल्कि वो तो लोगों की मौत पर चिंतन कर रहे थे। 

हर्षवर्धन और पांडेय के खिलाफ केस दर्ज
केंद्रीय मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के खिलाफ मुजफ्फर नगर में मामला दर्ज किया गया है। दोनों पर आरोप है कि उन्होंने 100 बच्चों की जान लेने वाले एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (चमकी बुखार) को लेकर सही तरीके से जागरुकता नहीं फैलाई।

कमेंट करें
TeaU3