comScore

मेघालय में भी बीजेपी सरकार, 6 मार्च को होगा शपथ ग्रहण समारोह

March 05th, 2018 10:45 IST
मेघालय में भी बीजेपी सरकार, 6 मार्च को होगा शपथ ग्रहण समारोह

हाईलाइट

  • मेघालय में 60 विधानसभा सीटें हैं, जिनमें से 59 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हुई थी।
  • यहां सत्तारूढ़ दल कांग्रेस को 21 और नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) को 19 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं BJP को 2 सीटों पर जीत मिली है। अन्य के खाते में 17 सीटें आई हैं। यहां किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है।
  • नेशनल पीपल पार्टी (NPP) लीडर कॉनरेड संगमा ने बीजेपी, यूडीपी, एचएसपीडीपी और 1 निर्दलीय के साथ 34 विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल को दिया।

डिजिटल डेस्क, शिलांग। मेघालय में सबसे बड़ी पार्टी बनने के बावजूद कांग्रेस के हाथ खाली रह गए हैं। यहां 2 सीट जीतने वाली भारतीय जनता पार्टी (BJP) क्षेत्रिय पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाने जा रही है। BJP ने यहां नेशनल पीपल पार्टी (NPP) और यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (UDP) के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा किया है। इस सम्बंध में NPP लीडर कॉनरेड संगमा के नेतृत्व में गठबंधन नेताओं ने मेघालय के राज्यपाल से शाम को मुलाकात की। संगमा ने बीजेपी, एनपीपी, यूडीपी, एचएसपीडीपी और 1 निर्दलीय के साथ 34 विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल को दिया। इसके बाद राज्यपाल ने कॉनरेड संगमा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रण दिया। राजधानी शिलांग में शपथ ग्रहण समारोह 6 मार्च को सुबह 10.30 पर होगा।

राज्यपाल से मिलने के बाद कॉनरेड संगमा ने कहा है कि एक गठबंधन सरकार को चलाना आसान नहीं होता है लेकिन उन्हें पूरा विश्वास है कि सरकार में शामिल होने वाले सभी दल के विधायक मेघालय राज्य और यहां की जनता की भलाई और विकास की दिशा में मिलकर काम करेंगे।

बीजेपी नेता हिमंता बिस्व सरमा ने कहा है कि मेघालय में कॉनरेड संगमा ही मुख्यमंत्री होंगे और यहां कोई उप मुख्यमंत्री नहीं होगा।उधर, यूडीपी नेता ने भी बीजेपी के पक्ष में बयान देते हुए कहा है कि वह कांग्रेस के साथ काम नहीं कर सकते, इसलिए वे एनपीपी-बीजेपी गठबंधन को अपना समर्थन दे रहे हैं। निर्दलीय उम्‍मीदवार सैमुएल एस. संगमा ने भी हिमंता बिस्व सरमा से मुलाकात  के बाद बीजेपी को समर्थन देने का ऐलान किया है।

गौरतलब है कि इससे पहले कांग्रेस ने मेघालय  में सरकार बनाने का दावा पेश किया था। कांग्रेस को मेघालय में सबसे ज्यादा 21 सीटों पर जीत मिली थी। हालांकि बहुमत से यह करीब 10 सीटें कम थी। देर रात मेघालय कांग्रेस के अध्यक्ष विंसेंट पाला और कांग्रेस के महासचिव सीपी जोशी ने राज्यपाल गंगा प्रसाद से मुलाकात की थी और कांग्रेस की तरफ से सरकार बनाने की दावेदारी वाला लेटर सौंपा था।

इस लेटर में कहा गया था कि कांग्रेस पार्टी राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर बनकर उभरी है। संवैधानिक नियमों के अनुसार कांग्रेस को जल्द से जल्द सरकार बनाने के लिए निमंत्रण दिया जाना चाहिए। विधानसभा में तय दिन और समय के अनुसार पार्टी बहुमत सिद्ध कर देगी।

मेघालय चुनाव : किसे कितनी सीटें मिलीं

मेघालय में 60 विधानसभा सीटें हैं, जिनमें से 59 विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हुई थी। मेघालय की विलियमनगर सीट से एनसीपी कैंडिडेट जेएन संगमा की 18 फरवरी को आईईडी ब्लास्ट में मौत हो गई थी। इसके चलते 1 सीट पर वोटिंग नहीं हुई है। 59 सीटों के लिए चुनाव परिणाम शनिवार को घोषित कर दिए गए हैं। यहां सत्तारूढ़ दल कांग्रेस को 21 और नेशनल पीपुल्स पार्टी (NPP) को 19 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं BJP को 2 सीटों पर जीत मिली है। अन्य के खाते में 17 सीटें आई हैं। यहां किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है।

कमेंट करें
sQzPj