comScore

अयोध्या विवाद पर बोले CJI- 18 अक्टूबर तक होगी सुनवाई, 28 दिन में फैसला

अयोध्या विवाद पर बोले CJI- 18 अक्टूबर तक होगी सुनवाई, 28 दिन में फैसला

हाईलाइट

  • अयोध्या विवाद पर 18 अक्टूबर तक होगी सुनवाई- चीफ जस्टिस
  • सुनवाई के बाद 28 दिन में लिखा जाएगा फैसला- चीफ जस्टिस
  • जरूरत पड़ी तो हम शनिवार को भी सुनवाई के लिए तैयार- चीफ जस्टिस

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। अयोध्या बाबरी मस्जिद-राममंदिर विवाद को लेकर आज (बुधवार) 26 वें दिन की सुनवाई चल रही है। इस दौरान सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ अभी भी इस बात पर मंथन कर रही है कि सुनवाई पूरी होने में कितना समय लगेगा। सुनवाई पूरी होने और फैसला लिखे जाने को लेकर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि हमें उम्मीद है कि हम अयोध्या राम जन्मभूमि मामले में 18 अक्टूबर तक सुनवाई पूरी कर लेंगे। जरूरत पड़ी तो हम शनिवार को भी सुनवाई के लिए तैयार हैं। इसके बाद हमें फैसला लिखने के लिए चार हफ्तों का समय मिलेगा।

चीफ जस्टिस की अगुवाई वाली पांच जजों की बेंच ने बुधवार को सुनवाई के दौरान कहा,अगर पक्षकार चाहते हैं तो मध्यस्थता का रास्ता भी अपना सकते हैं। इस बारे में वह अदालत को बता सकते हैं। सभी पक्ष इसमें प्रयास करें। चीफ जस्टिस ने कहा है कि उन्हें मध्यस्थता पैनल की ओर से चिट्ठी मिली है, जिसमें इस बात का जिक्र किया है कि कुछ पक्ष अभी भी मध्यस्थता करना चाहते हैं, अगर ऐसा है तो इस पर आगे बढ़ा जा सकता है।

हालांकि, सुप्रीम कोर्ट ने ये भी साफ किया कि इस दौरान मामले की रोजाना सुनवाई बंद नहीं होगी, बल्कि सुनवाई ऐसे ही चलती रहेगी। साथ ही अदालत ने भरोसा दिया कि मध्यस्थता की प्रक्रिया पूरी तरह से गोपनीय रहेगी। बता दें कि 6 अगस्त से इस मामले की रोजाना सुनवाई शुरू हुई। हालांकि, इससे पहले सुप्रीम कोर्ट की ओर से इस मामले में मध्यस्थता का मौका दिया गया था और एक पैनल का गठन किया गया था।

कमेंट करें
ymdlV